सिटी स्टार: कई खिताब अपने नाम कर चुकी हैं इलाहाबाद की श्रीराधे खंडूजा

  • Hasnain
  • Wednesday | 24th January, 2018
  • entertainment
संक्षेप:

  • श्रीराधे खंडूजा है इलाहाबाद की उभरती हुई स्टार
  • राष्ट्रीय और अंतरराष्‍ट्रीय स्तर पर कई खिताब कर चुकी हैं अपने नाम
  • हाल ही में खत्म की है एक तेलगु फिल्म की शूटिंग

 

इलाहाबाद: 22 साल की श्रीराधे खंडूजा इलाहाबाद की उभरती हुई स्टार हैं। पढ़ने में अव्वल रही श्रीराधे इलाहाबाद के सेंट मैरी कॉन्वेंट इलाहाबाद से पढ़ी हुई है। बचपन से ही मॉडलिंग और एक्टिंग का शौक रखने वाली श्रीराधे ने राष्ट्रीय एवं अंतरराष्ट्रीय स्तर पर बहुत से खिताब अपने नाम किये है।

उन्होंने हाल ही में एक तेलगु फिल्म की शूटिंग खत्म की है। फिलहाल श्रीराधे मुम्बई में रहती हैं लेकिन वो इलाहाबाद शहर को बेहद पसंद करती है। वह 2014 में मिस दिवा यूनिवर्स में फाइनलिस्ट रह चुकी है और फेमिना मैगज़ीन 2013 के कवर पेज पर आ चुकी है।

इसके साथ साथ इंडियाज़ नेक्स्ट टॉप मॉडल सीजन एक में टॉप 7 में रही हैं और एमटीवी स्प्लिट्सविला सीजन 9 की सेमी फाइनलिस्ट भी रह चुकी हैं। हाल ही में इन्होंने गौतम नंदा नामक दक्षिण भारत की एक फ़िल्म की है।

NYOOOZ से खास बातचीत करते हुए श्रीराधे ने अपने अब तक के सफर के अनुभवों को बताया...

सवाल: क्या आप हमेशा से ही मॉडलिंग और एक्टिंग करना चाहती थी ? अगर नहीं तो इसके अलावा आप क्या करती?

श्रीराधे खंडूजा: मैं हमेशा से ही इस तरफ आकर्षित थी।जब मैं 3 साल की थी तब पहली बार स्टेज पर परफॉर्मेंस दिया था। उसके बाद से ही मुझे एक्टिंग में और भी ज्यादा दिलचस्पी आने लगी।

सवाल: प्रयाग नगरी ने आपके मुकाम को हासिल करने में किस प्रकार मदद की है?

श्रीराधे खंडूजा: इस शहर ने मुझे आब की तरह शालीन रहना सिखाया है। क्योंकि बाकी शहरों की बजाय इस शहर की गर्मजोशी में गुफ्तगू करने का मौका मिलता है।

सवाल: वो पहली चीज़ आपके दिमाग में क्या आती है जब कोई इलाहाबाद का नाम लेता है?

श्रीराधे खंडूजा: El Chico

सवाल: इलाहाबाद की 3 चीज़ें जो आपको रास भी आती है और खलती भी है?

श्रीराधे खंडूजा: इस शहर की जिंदादिली और जुड़ाव के साथ यहां का खाना मुझे काफी पसंद है लेकिन जिस चीज़ की कमी मुझे सबसे ज्यादा खलती है वो है फिटनेस क्लब्स का न होना, मुम्बई जिस तरह से रात में जगमगाता है उस तरह से इलाहबाद काफी सूना है। साथ ही में यहां की लोगों की रूढ़िवादी सोच।

सवाल: आप उभरते हुए एक्टर्स और मॉडल्स को क्या संदेश देना चाहेंगी की वो आगे अपने सफर को कैसे बढ़ाएं?

श्रीराधे खंडूजा: हमेशा अपने आप को आरोह में रखने की काबिलियत रखे क्योंकि अगर आपने इस फील्ड को चुना है तो आपको अस्वीकृतियों को स्वीकार करते हुए आगे बढ़ना होगा। साथ ही साथ आपको अपने आस पास के लोगों के बारे में पूरी तरह से जानकारी रखनी होगी।

सवाल: मुम्बई में रहते हुए आप इस शहर से किस तरीके का जुड़ाव महसूस करती हैं?

श्रीराधे खंडूजा: मुम्बई से मुझे बहुत प्यार है क्योंकि इस शहर ने मुझे बहुत कुछ सिखाया है और आज मैं जिस मुकाम पर हूँ वो सिर्फ इस शहर की बदौलत मुमकिन हो पाया है।

सवाल: आप इलाहाबाद के सांस्कृतिक धरोहर को संजोने के लिए आज के युवाओं को क्या संदेश देंगी?

श्रीराधे खंडूजा: सभी की सोच और दायरे सांस्कृतिक मूल्यों से अलग होती है। तो मुझे लगता है कि आज का युवा वर्ग अपने कर्तव्य से भली भांति अवगत है। बस इतना याद रखिये की आप हमेशा अपने जन्मस्थल का आदर करें।

सवाल: क्या आप रिटायर्ड होने के बाद इलाहाबाद में रहना पसंद करेंगी?

श्रीराधे खंडूजा: हां बेशक मैं अपने घर परिवार के साथ यहां रहना पसंद करूँगी।

 

सवाल: इलाहाबाद से जुड़ा कोई ऐसा वाक्या जो आप NYOOOZ के पाठकों को बताना चाहेंगी?

श्रीराधे खंडूजा: मैं हर दूसरी रात को अपने परिवार के साथ ड्राइव करने जाती थी क्योंकि उस वक़्त हम बात किया करते थे अपने दिन के बारे में की हमने क्या सीखा और क्या अनुभव कियाय़ इन सब बातों को एक दूसरे के साथ बांटते थे। जो आज मझे काफी याद आता है।

Related Articles