जानिये, होंडा एचआर-वी से जुड़ी पांच अहम बातें

जानिये, होंडा एचआर-वी से जुड़ी पांच अहम बातें

भारतीय बाजार में होंडा नई एमपीवी एचआर-वी को उतार सकती है। हालांकि, होंडा ने अब तक इसकी आधिकारिक पुष्टि नहीं की है। मगर, जानकारी सामने आई है कि होंडा एचआर-वी को 2019 के आखिर तक भारतीय बाजार में पेश किया जा सकता है। होंडा के बेड़े में यह गाड़ी बीआर-वी की जगह लेगी। यह एक कॉम्पैक्ट एसयूवी है, जिसका भारतीय बाजार में मुख्य रूप से मुकाबला हुंडई क्रेटा से होगा। 

यहां हमने होंडा एचआर-वी से जुड़ी पांच अहम बातें बताई है, जो शायद आप जानना चाहेंगे: - 

1. प्लेटफॉर्म

एचआर-वी को होंडा सिटी और जैज के प्लेटफॉर्म पर तैयार किया गया है। मौजूदा जनरेशन जैज का व्हीलबेस 2510 मिलीमीटर है, जबकि होंडा सिटी का व्हीलबेस 2600 मिलीमीटर है। एचआर-वी के यूरोपियन मॉडल की तुलना में होंडा सिटी का व्हीलबेस 10 मिलीमीटर कम है। होंडा एचआर-वी के यूरोपियन मॉडल के साइज को सही ढंग से समझाने के लिए हमने इसकी तुलना सेगमेंट की अन्य कारों से की है:- 

Honda City

 

होंडा एचआर-वी फेसलिफ्ट (यूरोपियन- मॉडल)

हुंडई क्रेटा

टाटा हैरियर

रेनो कैप्चर

जीप कंपास

निसान किक्स

लंबाई  (मिलीमीटर)

4334

4270

4598

4329

4395

4384

चौड़ाई  (मिलीमीटर)

1772

1780

1894

1813

1818

1813

ऊंचाई (मिलीमीटर)

1605

1665

1706

1619

1640

1656

व्हीलबेस  (मिलीमीटर)

2610

2590

2741

2673

2636

2673

लंबाई की बात करें तो यह गाड़ी केवल मुकाबले में मौजूद क्रेटा और डस्टर से ही लंबी है। हालांकि, इसकी चौड़ाई और उंचाई दोनों कारों के मुकाबले कम है। मगर इसका व्हीलबेस हुंडई क्रेटा से ज्यादा है। कुल मिलाकर साइज के लिहाज से इस कार की रोड प्रसेंस उतनी अच्छी नहीं है।  

Honda Jazz

2. इंजन

अंतरराष्ट्रीय बाजार में उपलब्ध होंडा एचआर-वी में सिटी सेडान वाला 1.5-लीटर 4-सिलेंडर आई-वीटैक इंजन और 1.6-लीटर डीजल इंजन मिलता है। इसके अलावा, इसमें सिविक वाला 1.8-लीटर हाइब्रिड-पेट्रोल इंजन का विकल्प भी मिलता है। अप्रेल 2020 से पहले होंडा अपनी सभी कारों को बीएस-6 मानदंडों के अनुसार अपग्रेड करेगी। उम्मीद की जा रही है कि होंडा एचआर-वी के भारतीय वर्जन में कंपनी सिटी वाला 1.5-लीटर पेट्रोल और डीजल इंजन दे सकती है।

Honda Civic's diesel engine

3. 2018 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में फेसलिफ्ट वर्जन हुआ था लॉन्च

होंडा ने 2018 में अंतरराष्ट्रीय बाजार में एचआर-वी का फेसलिफ्ट अवतार पेश किया था। यह एक फीचर लोडेड कार है। इस गाड़ी के यूरोपियन मॉडल में सिविक ऑटोमैटिक वाले एलईडी हैडलैंप, एलईडी फॉगलैंप, क्रूज कंट्रोल, ऑटोमैटिक गियरबॉक्स के साथ पैडल शिफ्टर्स, ऑटोमैटिक एसी, लैदर अपहोल्स्ट्री, 8-तरह से एडजस्ट की जाने वाली पावर ड्राइवर सीट, 7-इंच का टचस्क्रीन इंफोटेनमेंट सिस्टम और सनरूफ जैसे फीचर्स दिए गए हैं। वहीं, सेफ्टी के लिहाज से इसमें ड्यूल फ्रंट, साइड और कर्टेन एयरबैग, हिल स्टार्ट असिस्ट, व्हीकल स्टेबिलिटी असिस्ट और होंडा लेनवॉच कैमरा जैसे फीचर मिलते हैं। भारत में कंपनी इसके फेसलिफ्ट वर्जन को ही पेश करेगी।

Honda's Lane Watch Camera

लॉन्च के शुरुआती चरणों में कंपनी पूरी तरह से कार का निर्माण भारत में नहीं करेगी। ऐसे में इसकी अधिक कीमत को उचित साबित करने के लिए कंपनी इसमें अंतरराष्ट्रीय बाजार वाले मॉडल की तरह ढेर सारे फीचर्स दे सकती हैं। 

4. संभावित कीमत 

भारत में नई एचआर-वी की शुरूआती कीमत 10 लाख या उससे ज्यादा रखी जा सकती है। वहीं इसके टॉप मॉडल की प्राइस जीप कंपास के लगभग बराबर (15 लाख रुपए) हो सकती है। भारत में इसका मुकाबला हुंडई क्रेटा, रेनो कैप्चर और निसान किक्स के टॉप मॉडल से होगा। 

5. लॉन्च डेट

उम्मीद है कि इसे त्योहारी सीज़न के आस-पास लॉन्च किया जाएगा। 

यह भी पढ़ें: जानिए असल में कितना माइलेज देती है 2019 होंडा सिविक पेट्रोल

Related Articles

Leave a Comment