आर्ट्स में शानदार करियर बनाने के लिए 12वीं के बाद करें ये कोर्स

  • आर्ट्स पढ़कर अच्छा करियर बना सकते है
  • आर्ट्स में कई हजार करियर के विषय
  • इवेंट मैनेजमेंट जैसे करियर में है मोटी सैलरी

12वीं परीक्षा के बाद स्टूडेंट्स के बीच सबसे ज्यादा यह टेंशन रहती है कि आगे वह क्या पढ़े जिससे आने वाला भविष्य अच्छा हो। कई बार स्टूडेंट्स अपने माता-पिता, रिश्तेदारों और दोस्तों की सलाह पर कोर्स का चयन करते हैं। बेहतर है कि स्टूडेंट्स अपनी रुचि का ख्याल रखें और अपनी मेरिट के अनुसार विषयों का चयन करें। अगर बात आर्ट्स के विषयों की हो तो यह आम धारणा हो गई है कि आर्ट्स पढ़कर अच्छा भविष्य नहीं बन पाता है। अगर आपकी दिलचस्पी आर्ट्स में है तो किसी और की बात पर ध्यान न दें, आप जो पढ़ना चाहते हैं वहीं पढ़ें। आर्ट्स में कई हजारों ऐसे विषय हैं जिसकी पढ़ाई करने के बाद आप मोटी सैलरी पा सकते हैं।

1. इवेंट मैनेजमेंट: अगर आपको पार्टियों में जाना-आना, जश्न मनाना अच्छा लगता है तो इसमें भी करियर बना सकते हैं. इवेंट मैनेजमेंट ग्लोबल लेबल पर तेजी से बढ़ने वाला फिल्ड है। इसमें संभावनाओं की कमी नहीं है, बस आपके पास अच्छे प्लान होने चाहिए। आपके पास इमेजिनेटिव स्किल्स, टाइम मैनेजमेंट, टीम स्प्रीट, मैनेजमेंट स्किल्स होने चाहिए। आप इसमें डिग्री कोर्सेज और डिप्लोमा दोनों कर सकते हैं.

2. मैनेजमेंट: लोगों के लगता है कि मैनेजमेंट की पढा़ई कॉमर्स स्ट्रीम वाले स्टूडेंट्स करते हैं, लेकिन ऐसा नहीं है। अगर आप मैनेजमेंट कोर्स करना चाहते हैं तो आप बीबीए यानी बैचलर इन बिजनेस एडमिनिस्ट्रेशन, बीबीएम यानी बैचलर इन बिजनेस मैनेजमेंट और बैचलर इन बिजनेस स्टडीज की पढ़ाई कर सकते हैं। इन कोर्सेज को करने के बाद आप इनसे संबंधित कंपनियों में नौकरी कर सकते हैं या ग्रेजुएशन के बाद एमबीए कर सकते हैं।

3. बैचलर इन सोशल वर्क: देश भर में एनजीओ का तेजी से विकास हो रही है। विदेश एनजीओ भी भारत में तेजी से अपना काम बढ़ा रहे हैं। अगर आपकी दिलचस्पी सोशल वर्क में है तो आपके लिए इससे बेहतर करियर कुछ हो ही नहीं सकता है। इस क्षेत्र में कई संगठन किसी एक क्षेत्र में काम करते हैं। यह आपको तय करना होगा कि आप किस दिशा में काम करना चाहते हैं। यहां आपको सामाजिक और आर्थिक चुनौतियां के बीच काम करने के तरीके को सिखाया जाएगा।

4. डिजास्टर मैनेजेमेंट: प्राकृतिक आपदाओं के बढ़ने के साथ ही इस समस्या से निपटने वालों की भूमिका अहम हो गई है। इस समस्यां से निपटने का काम करते हैं डिजास्टर मैनेजमेंट प्रोफेशनल्स को इस खास काम के लिए ट्रेंड किया जाता है। डिजास्टर मैनेजमेंट प्रोफेशनल्स का काम आपदा के शिकार लोगों की जान बचाना और उन्हें नई जिंदगी देना है।

5. पर्सनल स्टाइलिस्ट: पर्सनल स्टाइलिस्ट का काम होता है लोगों का मेकओवर करना और लोगों के ड्रेसिंग सेंस को भी बढ़ाना। एक्टर, मॉडल अपने आस-पास ऐसे लोगों को हरवक्त रखते हैं ताकि वे हर मौके पर कुछ अलग दिख सकें। पर्सनल स्टाइलिस्ट बनने के लिए जो बेसिक जरूरत है वो है अपने क्लाइंट के मन को पढ़ना कि वह क्या चाहता है? इसके लिए आपको थोड़ा सी रिसर्च करना होगा। वे लोग इस प्रोफेशन में करियर बना सकते हैं जो लोगों के मूड, शख्सियत, ड्रेसिंग सेंस को जानते हैं. इसके लिए आपको हर दिन की फैशन जगत की अपडेट ररखनी होगी।

6. ज्वेलरी डिजाइनिंग: अगर आप की रुचि डिजाइनिंग क्षेत्र में जाने की है तो ज्वेलरी डिजाइनिंग आपके लिए बेहतर करियर विकल्प हो सकता है। भारत एक ऐसा देश है जहां लोगों में ज्वेलरी के प्रति सबसे ज्यादा क्रेज रहता है. इस वजह से ज्वेलरी इंडस्ट्री भी देश की अर्थव्यवस्था का एक बड़ा हिस्सा है। इस बात का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि इस इंडस्ट्री की क्षमता 2015 तक 2.15 लाख करोड़ रुपये होने का अनुमान है।

Related Articles

Leave a Comment