ब्रज में डेंगू और वायरल बुखार बरपा रहा कहर, 16 लोगों ने तोड़ा दम

संक्षेप:

  • नहीं रुका मौत का सिलसिला, डेंगू और वायरल से चार की मौत।
  • बुखार से तीन दिन में बैंककर्मी समेत तीन की मौत।
  • बुखार से पीड़ित जमथरी के प्रधान की मौत।

आगरा- ब्रज के जिलों में वायरल और डेंगू कहर बरपा रहा है। गुरुवार को 16 लोगों ने दम तोड़ दिया। इनमें आगरा में सात, फिरोजाबाद के चार, मथुरा और कासगंज के दो-दो और मैनपुरी का एक व्यक्ति शामिल है। आगरा में बरहन के सराय जैराम के 10 माह के गोलू पुत्र रानू और गोपाल (14) की मौत हो गई। डौकी के 19 वर्षीय युवक की भी मौत हो गई। रुनकता के सींगना निवासी बैंककर्मी शुभम (27) की दिल्ली में बुखार से मौत हो गई। सींगना बुर्ज निवासी संध्या (4) पुत्री विजयपाल और हसीना (55) पत्नी जान मोहम्मद की बुखार से मौत हो गई। 

फिरोजाबाद के गांव खैय्यातान में भजनलाल (45) पुत्र सुनहरीलाल की आगरा के निजी अस्पताल में मौत हो गई है। खैरगढ़ निवासी छह माह की खुशी पुत्री पंकज कुमार, नीता देवी (45) पत्नी ठाकुरदास निवासी इंदुमई और गल्ला मंडी निवासी तमन्ना गुप्ता( 22)  पुत्री सौरभ गुप्ता ने भी बुखार से दम तोड़ दिया। अब तक जिले में  मौत का आंकड़ा 245 पहुंच गया है। 

मथुरा के गांव जनकपुर में मधु (10) पुत्री रामवीर की बुखार से और महावन के मोहल्ला बलदेवगढ़ निवासी बलवीर सिंह के बेटे शिवा (14) की डेंगू से मौत हो गई। मैनपुरी के विकासखंड सुल्तानगंज क्षेत्र के ग्राम जमथरी के प्रधान अरविंद उर्फ रामनाथ को चार दिन पहले बुखार आया था। परिजनों ने प्रधान को इलाज के लिए आगरा स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। बुधवार की रात प्रधान की उपचार के दौरान मौत हो गई। कासगंज में  ढोलना निवासी दिव्या (15) पुत्री हाकिम सिंह की डेंगू से मौत हो गई। वहीं मोहनपुर के आलमपुर निवासी मूलचंद्र (60) पुत्र लाल सिंह को 6 दिन पहले बुखार आया। परिजन उपचार के लिए उसे नोएडा ले गए, जहां उसकी मौत हो गई ।

ये भी पढ़े : UP TET परीक्षा में धांधली का आरोप, सपाइयों ने किया प्रदर्शन


बुखार से तीन दिन में बैंककर्मी समेत तीन की मौत
रुनकता के गांव सीगना में तीन दिन बुखार से बैंक कर्मचारी समेत तीन लोगों की मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक सींगना निवासी शुभम (27) पुत्र गौरीशंकर बाह में बैंक कर्मचारी था। तेज बुखार की शिकायत पर उसे दिल्ली में भर्ती कराया गया था। जहां मंगलवार को उसकी मौत हो गई। 48 घंटे में ही बरहन और डौकी में दो बच्चों समेत तीन की जान चली गई। मंगलवार को बरहन के सराय जैराम के 10 माह के गोलू पुत्र रानू की मौत हुई थी। जबकि गुरुवार को गोपाल (14) की मौत हो गई। इससे पूर्व गांव में एक महिला और दो बच्चों की जान जा चुकी है। सराय जैराम निवासी रानू ने बताया कि उनके 10 माह का बेटा गोलू बुखार से पीड़ित था। एक डॉक्टर से इलाज करा रहे थे। सोमवार को हालत बिगड़ने पर आगरा के निजी अस्पताल में भर्ती कराया था, जहां मंगलवार को मौत हो गई। इसी तरह गुरुवार को गोपाल (14) पुत्र जगदीश की भी बुखार से मौत हो गई। परिजनों के मुताबिक गोपाल को दो दिन से बुखार आ रहा था। उसका भी स्थानीय झोलाछाप से इलाज कराया गया था। इससे पूर्व गांव में दीपक पुत्र धर्मवीर, साहिल, सुमन पत्नी चंद्रपाल कुशवाह की बुखार से मौत हो चुकी है। प्रधान मुकेश यादव ने बताया कि गांव में अभी कई लोग बीमार हैं।  डौकी  क्षेत्र के ब्रह्म नगर इस्लामपुर निवासी मलखान (19) पुत्र बालमुकुंद चार दिन से बुखार से पीड़ित था। परिजन कुंडौल के एक झोलाछाप से इलाज करा रहे थे। गुरुवार को परिजन आगरा ले जा रहे थे। पर, रास्ते में ही मलखान की मौत हो गई। परिजनों ने शाम को उसका अंतिम संस्कार भी कर दिया। 

नहीं रुका मौत का सिलसिला, डेंगू और वायरल से चार की मौत
फिरोजाबाद जिले में डेंगू व वायर से मौत का सिलसिला रुक नहीं रहा है। गुरुवार को भी चार लोगों की मौत हो गई। इसमें छह माह की बालिका भी शामिल है। शहर के मुकाबले देहात क्षेत्र में मरने वालों की संख्या अधिक है। अब कुल 245 लोगों की मौत हो चुकी है। खैरगढ़ के गांव खैय्यातान में भजनलाल (45) की आगरा के निजी अस्पताल में मौत हो गई है। भजनलाल के चार बच्चे हैं। इधर, खैरगढ़ निवासी छह माह की खुशी पुत्री पंकज कुमार ने भी इलाज के दौरान आगरा में दम तोड़ दिया। नीता देवी (45) पत्नी ठाकुरदास निवासी इंदुमई की मौत डेंगू से हुई है। महिला का इलाज प्राइवेट अस्पताल में चल रहा था। गल्ला मंडी निवासी तमन्ना गुप्ता (22) पुत्री सौरभ गुप्ता ने डेंगू के इलाज के दौरान मौत हो गई है।

बुखार से पीड़ित जमथरी के प्रधान की मौत 
मैनपुरी में बुखार से पीड़ितों की संख्या बढ़ती जा रही है। बुधवार की रात सुल्तानगंज विकास खंड की ग्राम पंचायत जमथरी के प्रधान की बुखार से आगरा में मौत हो गई। जिला पंचायतराज अधिकारी स्वामीदीन ने प्रधान की मौत के संबंध में उनके घर जाकर जानकारी जुटाई। विकासखंड सुल्तानगंज क्षेत्र के ग्राम जमथरी निवासी प्रधान अरविंद उर्फ रामनाथ को चार दिन पहले बुखार आया था। परिजनों ने प्रधान को इलाज के लिए आगरा स्थित एक निजी अस्पताल में भर्ती कराया। बुधवार की रात प्रधान की उपचार के दौरान मौत हो गई। प्रधान की मौत से गांव में कोहराम मचा हुआ है। ग्रामीणों के अनुसार गांव में 10 लोग बुखार की चपेट में हैं। जानकारी पर जिला पंचायत राज अधिकारी स्वामीदीन गुरुवार को गांव जमथरी पहुंचे। उन्होंने परिजनों से प्रधान के उपचार के दौरान हुई जांचों की जानकारी ली।

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

अन्य आगरा की अन्य ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें और अन्य राज्यों या अपने शहरों की सभी ख़बरें हिन्दी में पढ़ने के लिए NYOOOZ Hindi को सब्सक्राइब करें।

Related Articles