तो नरेश अग्रवाल के `राम` अब रम से निकल दिल में जा बसे

संक्षेप:

  • क्या नरेश अग्रवाल की शुद्धि कर पाएगी भाजपा?
  • एंट्री होते ही जमकर ट्रोल हुई बीजेपी
  • लोगों ने याद दिलाए पुराने बयान

बरेलीः हमेशा विवादित बयानों को लेकर चर्चा में रहने वाले राज्‍यसभा सांसद नरेश अग्रवाल अब भाजपाई हो गए हैं. आधिकारिक रूप से बीजेपी के हो गए हैं. लेकिन यही नरेश अग्रवाल ने राज्‍यसभा में बीजेपी के सांसदों से सवाल पूछा था कि `गाय हमारी माता है, तो बैल हमारा क्‍या हुआ?` `अच्‍छा बछड़ा और सांड हमारा क्‍या हुआ? वे राज्‍य सभा की एक बहस में हिस्‍सा लेते हुए भाषण दे रहे थे. इसी बहस में नरेश अग्रवाल ये भी कह गए थे कि `विस्की में विष्णु बसें, रम में श्रीराम, जिन में माता जानकी और ठर्रे में हनुमान, बोलो रामचंद्र की जय`.

तब बीजेपी सांसदों ने नरेश अग्रवाल की इस शर्मनाक टिप्‍पणी पर खूब बवाल मचाया था. इसे हिंदुओं की आस्‍था पर हमला करार दिया था. लेकिन, 19 जुलाई 2017 को यह विवादित भाषण देने वाले नरेश अग्रवाल अब आठ महीने बाद बीजेपी में शामिल हो गए हैं. आखिर ऐसा क्‍या गजब हो गया. जिस पार्टी पर नरेश अग्रवाल गोरक्षा के नाम पर हिंसा को बढ़ावा देने का आरोप लगाते थे, उनके लिए वही पार्टी बेदाग कैसे हो गई? और हिंदुओं की भावनाओं के प्रति अति-संवेदनशील रहने वाली भाजपा के लिए नरेश अग्रवाल पवित्र कैसे हो गए?

वहीं जब NYOOOZ ने उनके इस बयान पर पूछा तो उन्होंने कहा कि कहीं दीवारों पर लिखी थी जो मैंने पढ़ा था अब मैं विवादों में नहीं पड़ना चाहता. बहरहाल अब देखना ये दिलचस्प होगा कि बीजेपी उनके उन बयानों की शुद्धि कैसे करती है जिनमें नरेश ने हिन्दू देवी देवताओं पर आपत्तिजनक टिप्पणी की थी.

ये भी पढ़े : कल हरिद्वार पहुंचेंगे अमित शाह, प्रणव पंड्या से करेंगे मुलाकात


अन्य बरेली ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में
पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें|

Related Articles