शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा की ये कहानी जानकर चौंक जाएंगे आप

संक्षेप:

  • शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा की हर तरफ हो रही चर्चा
  • बिग बॉस के घर से भी आया उन्हें बुलावा
  • सीएम के जनता दरबार से शुरू हुआ था विवाद

देहरादून: उत्तराखंड ही नहीं पूरे देश में शिक्षिका उत्तरा पंत बहुगुणा के नाम की चर्चा हो रही है। इसकी वजह है सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत के जनता दरबार में हुए विवाद से।

उत्तरा की पॉपुलेरिटी को देखते हुए रियेलिटी शो बिग बॉस के घर से भी उन्हें बुलावा आया है। ऐसा नहीं है कि उत्तरा हाल ही में सेलिब्रिटी बनी हैं दलअसल वो पहले से ही सेलिब्रिटी हैं। दरअसल, 52 साल की उत्तरा शिक्षिका से पहले अभिनेत्री रह चुकी हैं।

यह बात आज से लगभग 29 साल पहले की है। साल 1989 में उत्तरा अपने अभिनय का जादू बिखेर चुकी हैं। बताया जाता है कि उस वक्त की चर्चित गढ़वाली फिल्म `बंटवारा` में उत्तरा ने काम किया था। गढ़वाली फिल्म इंडस्ट्री में अपना नाम कमा चुकीं उत्तरा बचपन से ही उत्तराखंड से प्यार करती हैं। उत्तरा ने फिल्मों में कदम सोच समझकर नहीं बल्कि हंसी मजाक में रखा था। वो बताती हैं कि एक फिल्म करने के बाद उन्हें अन्य गढ़वाली फिल्मों का ऑफर मिला, जिसमें उन्होंने काम किया।

ये भी पढ़े : GST Council की बैठक में फैसला, सैनिटरी नैपकिन पर खत्म जीएसटी


उत्तरा बताती हैं कि उत्तराखंड के पहाड़ों से उन्हें बेहद प्रेम है और वह हमेशा से ही पहाड़ के लिए कुछ करना चाहती हैं। लाइट-कैमरा-एक्शन से जब वो दूर हुईं तो उन्होंने पहाड़ से अपना रिश्ता बनाये रखने के लिए उत्तरा ने पर्वतारोही बनने का रास्ता चुना। उत्तरा बताती हैं कि जब वो फिल्मों में काम कर रही थी तब भी उन्होंने कई ऊंची पहाड़ों की चोटियों को फतह किया है।

उत्तरा कॉलेज टूर के दौरान भी भागीरथी पर्वत को फतह कर चुकी हैं। ये पर्वत 6512 मीटर/21365 फीट ऊंचाई पर स्थित है। उत्तरा कहती हैं कि उन्हें उत्तरकाशी में सेवाएं देने से इसलिए कोई भी परहेज नहीं रहा क्योंकि हमेशा से ही उन्होंने पहाड़ों से प्रेम किया। लेकिन, हालातों ने ऐसी दीवारें खड़ी कर दी कि उन्हें मुख्यमंत्री के जनता दरबार में इतना सब कहना पड़ा।

वो बताती हैं कि उन्हें गुस्सा नहीं आता लेकिन जब मुख्यमंत्री ने उनसे इस तरह से बात की तब उनका गुस्सा सातवें आसमान पर चला गया। रही बात स्थांतरण की तो वो कहती है कि पहाड़ों में जब उन्होंने 25 साल सेवाएं दे चुकी हैं तो वो बाकी बचे साल भी पहाड़ों को दे सकती हैं। लेकिन, उनकी जरूरत अब उनके बच्चों को है इसलिए वो सरकार से यह मांग कर रही हैं कि उन्हें उनके बच्चों के आसपास तैनाती दे दी जाए।

उत्तर बहुगुणा के दो बच्चे हैं। बेटी दिल्ली में फैशन डिजाइनिंग का कोर्स कर रही है तो बेटा शुभम बहुगुणा देहरादून में रहता है। शुभम भी टीवी सीरियलों में अभिनय कर चुका है। 

Read more Dehradun Hindi News here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें

Related Articles