गया में नक्सलियों की बहुत बड़ी साजिश नाकाम, सीआरपीएफ के जवानों ने 83 बारूदी सुरंगों को किया डिफ्यूज

संक्षेप:

कहा जा रहा है कि नक्सलियों ने ढकपहाड़ी, सागरपुर एवं खजौतिया जाने वाले रास्तों पर बारूदी सुरंग बिछा रखा था. इसके अलावा नक्सलियों ने सागरपुर से डेढ़ किलोमीटर दक्षिण एवं ठकपहारी से डेढ़ किलोमीटर उत्तर पूर्व एवं औरंगाबाद जिले के मदनपुर के सीमावर्ती क्षेत्र में लगभग 150 मीटर में कुल 83 बारूदी सुरंग बिछाया था, जिसे जवानों ने नष्ट कर दिया गया.

गया। बिहार के गया जिले में शुक्रवार को कोबरा 205 और सीआरपीएफ (CRPF) 159 एवं 47 बटालियन के जवानों ने संयुक्त अभियान चलाया. इस दौरान जवानों ने अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र डुमरिया प्रखंड के छकरबंधा थाना क्षेत्र स्थित छकरबंधा वन क्षेत्र में  बारूदी सुरंग को नष्ट कर दिया.

कहा जा रहा है कि नक्सलियों ने ढकपहाड़ी, सागरपुर एवं खजौतिया जाने वाले रास्तों पर बारूदी सुरंग बिछा रखा था. इसके अलावा नक्सलियों ने सागरपुर से डेढ़ किलोमीटर दक्षिण एवं ठकपहारी से डेढ़ किलोमीटर उत्तर पूर्व एवं औरंगाबाद (Aurangabad) जिले के मदनपुर के सीमावर्ती क्षेत्र में लगभग 150 मीटर में कुल 83 बारूदी सुरंग बिछाया था, जिसे जवानों ने नष्ट कर दिया गया.

नक्सलियों द्वारा लगाए गए बारूदी सुरंग में तीन आईईडी 20 किलोग्राम, 71 आईईडी 10 किलोग्राम और 9 आईईडी 5 किलोग्राम सहित कुल 815 किलोग्राम विस्फोटक बारूद का इस्तेमाल किया गया था. सभी आईईडी को सीरीज में लगाया गया था, ताकि पुलिस, सीआरपीएफ और कोबरा के जवानों को भारी मात्रा में नुकसान पहुंचाया जा सके. अगर नक्सली अपनी इस योजना में सफल होते तो सुरक्षाबलों को भारी नुकसान उठाना पड़ता.

ये भी पढ़े : अच्छी खबर: अब से नोएडा में ग्रामीण इलाके में होगी ऑक्सीजन भरने की सुविधा, पूरे जिले को पांच हिस्सों में बांटा गया 


आपको बता दें कि यह पूरा अभियान कमांडेंट 205 कोबरा के नेतृत्व में पुलिस उपमहानिरीक्षक सीआरपीएफ गया के निर्देशन में चलाया था. इससे पहले भी 12 जनवरी को 34 आईईडी को बरामद कर उसे डिफ्फुज किया था.

नक्सलियों के विरुद्ध चलाये जा रहे सर्च अभियान के दौरान कोबरा 205 के जवानों के द्वारा लुटुआ थाना अंतर्गत भुसिया के जंगलों में नक्सलियों के द्वारा लगाए गए 34 आईईडी को डिफ्यूज किया गया था. अभियान के दौरान नक्सलियों के द्वारा लगाए गए सीरीज आईईडी बम भुसिया से लगभग डेढ़ किलोमीटर उत्तर- पश्चिम पहाड़ी पर 100 मीटर के दायरे में प्लांट किये गए थे. कुल 34 लैंड माइन्स को न्ष्ट करने की कार्रवाई की गई. बरामद किए गए आईईडी में 10 किलोग्राम के 9, पांच किलोग्राम के 10 ,3 किलोग्राम के 15 आईईडी तथा भारी मात्रा में डेटोनेटर कॉर्डेक्स वायर एवं बिजली के तार बरामद किए गए थे.

दरअसल, नक्सलियों के द्वारा जिले के सुदूरवर्ती इलाकों में बड़े पैमाने पर अवैध अफीम की खेती की जाती है जिसे सुरक्षा बलों के द्वारा चिन्हित कर सैकड़ों एकड़ में लगे अफीम को नष्ट किया जा रहा ,है जिससे बौखलाए नक्सलियों ने इस तरह की घटना को अंजाम देने के लिए योजना बनाई थी.

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Related Articles