महाशिवरात्रि 2018: कुमार विश्वास ने की इस ‘कविता’ के साथ पूजा

संक्षेप:

  • देश भर में महाशिवरात्रि की धूम
  • कुमार विश्वास ने किया जलभिषेक
  • पूजा के दौरान ‘कोई दीवाना कहता है’ की गायी कविता

गाजियाबाद: देश भर में महाशिवारात्रि की धूम है। सुबह- सुबह मंदिरों के बाहर श्रद्धालुओं की भीड़ उमड़ी और भगवान शिव को बेल पत्थर आदि चढ़ाकर पूजा की। साथ ही जल अभिषेक भी किया। लेकिन ये महाशिवरात्रि  नेताओं ने किस तरह बनाई, आज हम आपकों दिखाएंगे। बात करते है गाजियाबाद के रहने वाले राजनेता और आम आदमी पार्टी के नेता डॉ कुमार विश्वास की।

डॉक्टर विश्वास ने मंदिर में भगवान शिव पर जल चढ़ाया। इस दौरान उन्होंने भगवान शिव को अपनी कविता भी सुनाई। उन्होंने कविता गाते हुए कहा कि ‘कोई दिवाना कहता है, कोई दिवाना समझता है, मगर धरती की बैचानी तो बस बाबा समझता है, मैं तुझसे दूर कैसा हूं, तू मुझसे दूर कैसी है, ये तेरा दिल समझता है, या मेरा दिल समझता है।

‘कोई दीवाना कहता है’ की लोकप्रियता

कुमार विश्वास भारत देश के मशहूर कवि हैं। इनके द्वारा रचित कविता ‘कोई दीवाना कहता है’ ने बहुत लोकप्रियता बटोरी थी। इस कविता को आये बरसों बीत गए पर इसे सुनने में आज भी उतना ही आनंद आता है जितना कि पहले आया करता था। आम आदमी पार्टी के नेता और कवि डॉ कुमार विश्वास युवा लोगों के बीच काफी मशहूर हैं। वह जहां भी जाते हैं लोग उनकी इस मशहूर कविता की फ़रमाइश ज़रूर करते हैं, पर यह कविता अब सिर्फ भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी मशहूर हो चुकी है।

Read more Ghaziabad News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने
के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles

Leave a Comment