आज गाजियाबाद जाने के लिए करना पड़ेगा एनएच-24 का इस्तेमाल

संक्षेप:

  • 4915 हजार करोड़ रुपये निवेश कर रही है सैमसंग
  • 10 हजार के करीब उद्योग जिले में इस समय मौजूद हैं
  • 15 वर्षों में सिर्फ 5 से 7 फीसदी ग्रोथ ही उद्योगों को मिल पाई है

भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून-जे-इन आज मोबाइल कंपनी सैमसंग के नोएडा स्थित नए प्लांट उद्घाटन करेंगे। यह दुनिया का सबसे बड़ा मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट है। नोएडा के सेक्टर 81 में बना यह प्लांट 35 एकड़ में फैला है। करीब 5 हजार करोड़ रुपए में तैयार हुआ है। फिलहाल कंपनी भारत में 6.7 करोड़ स्मार्टफोन बनाती है, इस प्लांट में प्रोडक्शन से इनकी संख्या बढ़कर करीब 12 करोड़ हो जाएगी।

आपको बता दें कि सैमसंग प्लांट के उद्घाटन के पहले मून भारत-कोरिया बिजनेस फोरम की बैठक में हिस्सा लेंगे। इसके बाद वे प्रधानमंत्री मोदी के साथ गांधी मेमोरियल जाएंगे। 10 जुलाई को राष्ट्रपति भवन में उनका औपचारिक स्वागत होगा। फिर वे हैदराबाद हाउस में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ द्विपक्षीय वार्ता करेंगे। इस दौरान रक्षा क्षेत्र और साइबर सिक्योरिटी में करार होने की उम्मीद है। इसके अलावा दोनों नेता कारोबार, क्षेत्रीय और वैश्विक मुद्दों पर साझा हितों से जुड़े विषयों पर चर्चा करेंगे। दोनों के बीच अमेरिका-चीन ट्रेड वॉर पर भी बात हो सकती है।

सबसे पहले मोबाइल प्लांट

ये भी पढ़े : आगरा लाया गया महाकवि नीरज का पार्थिव शरीर, अंतिम दर्शन करने पहुंचे अखिलेश-विश्वास


बताया जा रहा है इस यूनिट में सबसे पहले मोबाइल फोन का प्लांट शुरू होगा। अभी मौजूदा यूनिट में कंपनी हर रोज करीब 2 लाख मोबाइल फोन बना रही है। नई यूनिट की क्षमता करीब 7 लाख मोबाइल फोन हर रोज बनाने की है।

रोज बनेंगे 7 लाख मोबाइल

बताया जा रहा है कि मोबाइल मैन्युफैक्चरिंग प्लांट शुरू होने के बाद सैमसंग इंडिया में हर रोज करीब 7 लाख मोबाइल हैंडसेट्स का उत्पादन करने वाली कंपनी होगी। इस कंपनी की यूनिट का उद्घाटन कर पीएम मोदी विश्व स्तर पर नोएडा की इमेज बनाने की कोशिश करेंगे। इससे दुनिया के बड़े इन्वेस्टर्स का यूपी में इन्वेस्टमेंट करने के लिए भरोसा बढ़ेगा।

पीएम मोदी और मून के दौरे को लेकर पुलिस-प्रशासन भी तैयार है। शाम 4 बजे से लेकर 7 बजे तक शहर के कई रास्ते बंद रहेंगे। परेशानी से बचने के लिए ट्रैफिक पुलिस ने लोगों से वैकल्पिक रास्तों का इस्तेमाल करने की अपील की है। ट्रैफिक इंस्पेक्टर लायक सिंह ने बताया कि नोएडा-ग्रेटर नोएडा लिंक रोड व एक्सप्रेसवे पर वाहनों की आवाजाही बंद रखी जाएगी। डीएनडी फ्लाईवे की ओर से नोएडा, मयूर विहार, ग्रेटर नोएडा और ग्रेटर नोएडा वेस्ट व गाजियाबाद के बीच आवाजाही करने वाले वाहनों को एनएच-24 या अन्य वैकल्पिक मार्गों का इस्तेमाल करना होगा। यमुना एक्सप्रेसवे, ग्रेटर नोएडा, परी चौक से होते हुए नोएडा-ग्रेनो एक्सप्रेसवे के रास्ते डीएनडी से दिल्ली को जाने वाले वाहन चालक असुविधा से बचने के लिए वैकल्पिक मार्गों का प्रयोग कर सकते हैं।

Read more Ghaziabad News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने
के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles