गाजीपुर बॉर्डर पर होली की तैयारी में जुटे किसान, 23 मार्च को मनाएंगे शहीद दिवस

संक्षेप:

गाजियाबाद: यूपी गेट पर किसानों ने होली की तैयारियां तेज कर दी हैं। किसानों ने होलिका की स्थापना कर दी है और 29 मार्च को फूलों की होली खेलने की बात कही। उससे पहले 23 मार्च को शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की शहादत पर शहीद दिवस भी मनाने की तैयारी जोरों पर हे। उधर, किसान आंदोलन को रफ्तार देने के लिए सोमवार को मुरादनगर के चितोड़ा गांव से किसानों ने 40 से अधिक ट्रैक्टरों के साथ पहुंचकर हुंकार भरी।

गाजियाबाद: यूपी गेट पर किसानों ने होली की तैयारियां तेज कर दी हैं। किसानों ने होलिका की स्थापना कर दी है और 29 मार्च को फूलों की होली खेलने की बात कही। उससे पहले 23 मार्च को शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की शहादत पर शहीद दिवस भी मनाने की तैयारी जोरों पर हे। उधर, किसान आंदोलन को रफ्तार देने के लिए सोमवार को मुरादनगर के चितोड़ा गांव से किसानों ने 40 से अधिक ट्रैक्टरों के साथ पहुंचकर हुंकार भरी।

भाकियू के जिला अध्यक्ष चौ. बिजेंद्र कुमार ने सभी किसानों को आगे की रणनीति बताई। वहीं, यूपी गेट पर किसानों ने होलिका दहन, फूलों की होली से पहले 23 मार्च को शहीद भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु की शहादत पर शहीद दिवस मनाने की योजना तैयार की है। इसके लिए एनएच -9 पर राष्ट्रीय संयुक्त किसान मोर्चा के तत्वावधान में बैनर लगाया गया है।

किसान आंदोलन में मंच का संचालन कर रहे चौ.ओमपाल मलिक ने बताया कि गाजीपुर किसान कमेटी के आह्वान पर रोजाना एक-एक गांव से किसान यूपी गेट आएंगे। इसी क्रम में मुरादनगर के गांव चितोड़ा से करीब 400 किसान दोपहर 12 बजे पहुंचे। यूपी गेट पर 40 से अधिक ट्रैक्टरों में किसान अगले 24 घंटे के लिए पहुंचे। जहां किसान मुखिया सोनपाल, जितेंद्र, भीम सिंह, जगत सिंह, सुंदरपाल, राजवीर, सतीश, समरजीत, मांगे, पिंटू, जुगेंद्र, आदि ने किसानों को संबोधित किया। चौ. ओमपाल मलिक के मुताबिक, सुबह आठ बजे से जिन किसानों का अनशन शुरू हुआ। उनमें राजेंद्र सिंह राठी, जगबीर सिंह, सोराज सिंह, होशियार सिंह, पप्पू, पवन राठी, मुकेश दहिया, जसवंत सिंह,जंग सिंह, नरेंद्र सिंह पंवार, धर्मवीर राठी, महिपाल सिंह, बिट्टू जंगेठी और सतवीर सिंह आदि शामिल रहे।

ये भी पढ़े : मेरठ: कोरोना संक्रमण की रफ्तार तेज़, वैक्सीनेशन की प्रक्रिया धीमी


आंदोलन में दिल्ली-मेरठ एक्सप्रेसवे पर मनाएंगे फूलों की होली

आंदोलन स्थल पर किसानों ने होलिका भी रख दी। इसमें किसानों ने उपले और लकड़ी के अलावा अन्य पूजा का सामान भी रखा है। इसके बराबर में राष्ट्रीय संयुक्त किसान मोर्चा गाजीपुर की तरफ बैनर भी लगाया गया है। जिस पर किसानों ने शहीदी दिवस और होली से लेकर दिसंबर तक के कार्यक्रम को साझा किया है। बैनर पर लिखे कार्यक्रम के तहत 23 मार्च को शहीदी दिवस मनाएंगे, 29 मार्च को किसान फूलों की होली खेलेंगे। इसके बाद 13 अप्रैल को वैशाखी, 14 अप्रैल को आंबेडकर जयंती, 21 अप्रैल को रामनवमी, 13 को ईद-उल-फितर, 15 अगस्त को स्वतंत्रता दिवस, 21 अगस्त को ओणम व 25 दिसंबर को क्रिसमस डे मनाएंगे।

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Read more Ghaziabad की अन्य ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें और अन्य राज्यों या अपने शहरों की सभी ख़बरें हिन्दी में पढ़ने के लिए NYOOOZ Hindi को सब्सक्राइब करें।

Related Articles