गोरखपुरः जिसकी मानसिकता विध्वंस की हो,वो शासन कैसे चलाएंगे: किशोर उपाध्याय

संक्षेप:

  • त्रिमण्डलीय समीक्षा बैठक करने पहुंचे किशोर उपाध्याय
  • प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय ने बीजेपी सरकार पर किया प्रहार
  • योगी ने शाह से 175 विधायक होने की दी थी धमकी, तब बने हैं सीएम

गोरखपुरः उत्तराखंड के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय गोरखपुर के बस्ती और देवी पाटन मंडलों के त्रिमण्डलीय समीक्षा बैठक करने पहुंचे। इस दौरान उन्होंने प्रदेश की बीजेपी सरकार पर प्रहार करते हुए कहा कि जिसकी मानसिकता विध्वंस की हो,वह शासन कैसे चलाएगा।

आपको बता दें कि सोमवार को गोरखपुर में त्रिमण्डलीय समीक्षा बैठक में गोरखपुर ,बस्ती और देवीपाटन मंडलों के विशिष्ट कांग्रेस जनों के साथ परिचर्चा में उतराखंड के प्रदेश अध्यक्ष किशोर उपाध्याय आये थे।  उन्होंने प्रदेश में चल रही बीजेपी सरकार पर वार करते हुए कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री के साथ दो उपमुख्यमंत्री क्यों रखे गए है। यूपी के मुख्यमंत्री को बीजेपी से ही चुनौतियों का सामना करना पड़ रहा है।

किशोर उपाध्याय ने आरोप लगाया कि मुख्यमंत्री योगी जी ने अमित शाह को धमकी दी थी और कहा था कि मेरे पास 175 विधायक है। तब जाकर अमित शाह ने योगी जी को मुख्यमंत्री बनाया। उसके बाद से मुख्यमंत्री के खिलाफ साजिश की जा रही है कि उनको कैसे हटाया जाये। यूपी की कानून व्यवस्था को आड़े हाथ लेते हुए कहा कि सरकार अपनी जिम्मेदारी को समझ नहीं रही है। जिसकी मानसिकता विध्वंस की हो वो शासन कैसे चलायेगा ।

ये भी पढ़े : ताजमहल की 'हिफाज़त में कोताही' पर भड़का SC, कहा- सहेज नहीं सकते, तो ढहा दो


विधानसभा चुनावों में मिली शिकस्त पर उन्होंने पार्टी की कमजोरी को उजागर करते हुए कहा कि कांग्रेस की यूपी में पकड़ कमजोर हो गयी थी। यूपी में हम जनता के मूड को समझ नहीं पाए। हम हार की समीक्षा कर रहे है। नोट बंदी में बीजेपी ने चुनाव के समय तीन हजार करोड़ रुपये कहा से खर्च किये इसका जवाब देना चाहिए।

अन्य गोरखपुर ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें
हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles