गोरखपुर से निकलकर दिल्ली पहुंचेगी 11 किमी लंबे तिरंगे के साथ रथयात्रा

संक्षेप:

  • श्रद्धा के साथ किया गया तिरंगा का पूजन
  • गोरखपुर में बनाया 11 किमी लंबा तिरंगा झंडा
  • गिनीज वर्ल्ड में रिकॉर्ड के लिए कराया गया रजिस्टेशन

गोरखपुरः स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को संवैधानिक सम्मान दिलाने के अभियान के तहत तैयार किए गए 11 किलोमीटर लम्बा तिरंगा तैयार किया गया है। इनको सम्मान देने का कार्यक्रम को खासतौर से भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के शहादत दिवस के अवसर पर आयोजित किया गया।

भगत सिंह, राजगुरु एवं सुखदेव के शहादत दिवस 23 मार्च को विश्व के सबसे लम्बे तिरंगे का पूजन एवं भारत माता की भव्य आरती का आयोजन भव्या मैरेज हाल आजाद चौक पर संपंन हुआ। भगत सिंह की शहादत को इस साल 87 वर्ष पूरे हुए हैं। इस स्मृति में 87 महिलाएं तिरंगी पोशाक में आरती की। इस दौरान आठ कुंतल वजन का 11 किलोमीटर लंबा तिरंगा झंडा, भारत माता के चित्र के साथ प्रदर्शित किया गया।

मुख्य अतिथि महापौर सीताराम जायसवाल की मौजूदगी में 87 महिलाएं तिरंगा परिधान पहने जलता दीप हाथ में लेकर तिरंगा पूजन और भारत माता की आरती की। शंखध्वनि के बीच भारत माता की आरती की गूंज माहौल में देशभक्ति के भाव से भर रही थी। स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को संवैधानिक सम्मान दिलाने के लिए आयोजित इस कार्यक्रम में बड़ी संख्या में लोग शामिल हुए।

ये भी पढ़े : Ambedkar Jayanti 2019:अंबेडकर जयंती पर जानिए, बाबा साहेब का सिद्धांत


भगत सिंह, सुखदेव और राजगुरु के शहादत दिवस के अवसर पर विश्व चेतना मंच के तत्वाधान में आयोजित कार्यक्रम की शुरुआत महापौर सीताराम जायसवाल, पूर्व मेजर जनरल एसके जसवाल, प्रोफेसर विनोद सोलंकी, डा. रूप कुमार बनर्जी ने दीप प्रज्ज्वलन के साथ हुई। उसके बाद वैदिक मंत्रोच्चार के बीच आरती श्रद्धा भाव से संपंन हुई। संकल्प लिया गया कि स्वतंत्रता संग्राम के शहीदों को संवैधानिक सम्मान दिलाने के लिए इस अभियान को आगे बढ़ाया जाएगा। अतिथियों ने अमर शहीदों की शहादत का स्मरण करते हुए उनके व्यक्तित्व व कृतित्व का स्मरण किया। महापौर सीताराम ने कहा कि ऐसे आयोजनों देश के लोगों में समर्पण का भाव जगता है। दूसरी ओर प्रोफेसर विनोद सोलंकी ने तिरंगे के सम्मान में जल रहे दीप की तुलना दिल्ली में जल रहे अमर जवान ज्योति से की।

निकाला जाएगा तिरंगा रथ यात्रा

मंच के अध्यक्ष रघुवंश हिंदू ने बताया कि जल्द ही तिरंगा रथ यात्रा पूर्वांचल समेत समूचे उत्तर प्रदेश में निकाली जाएगी। यात्रा का अंतिम पड़ाव नई दिल्ली रहेगा जहां शहीदों के संवैधानिक सम्मान की मांग को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ज्ञापन सौंपा जाएगा। यात्रा के दौरान हस्ताक्षर अभियान चलाया जाएगा।

 

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

अन्य गोरखपुर ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें
हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles