संस्कृत विवि में पूर्व अध्यक्षों के निलंबन के विरोध में प्रदर्शन कगिह

हरिद्वार।

उत्तराखंड संस्कृत विश्वविद्यालय में पूर्व छात्र संघ अध्यक्षों के निलंबन को लेकर छात्रों ने विवि परिसर के मुख्यद्वार पर जमकर होकर विरोध प्रदर्शन किया।

छात्रों ने अनुशासन समिति के सदस्यों पर कई गंभीर आरोप लगाते निलंबन वापस न होने पर भूख हड़ताल और आत्मदाह करने की भी चेतावनी दी।



घटनाक्रम के मुताबिक पूर्व निर्धारित कार्यक्रम के मुताबिक बुधवार को संस्कृत विश्वविद्यालय के छात्र पूर्व छात्र संघ महासचिव ललित शर्मा के नेतृत्व में विवि परिसर के गेट पर एकत्रित हुए।

यहां पर छात्रों ने पूर्व छात्र संघ अध्यक्ष अनूप बहुखंडी और शिवचरण नौडियाल के निलंबन को वापस करने की मांग को लेकर नारेबाजी की।

छात्रों ने अनुशासन समिति के सदस्यों पर पुरानी रंजिश के चलते निलंबन का फैसला लिए जाने का आरोप लगाया।

पूर्व छात्र संघ उपाध्यक्ष आशीष सेमवाल और छात्र नेता धीरज ने कहा कि अनुशासन समिति ने छात्रों के एक संगठन को लाभ पहुंचाने और बदले की भावना से निलंबन किया है।

डिसक्लेमर :ऊपर व्यक्त विचार इंडिपेंडेंट NEWS कंट्रीब्यूटर के अपने हैं,
अगर आप का इस से कोई भी मतभेद हो तो निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिखे।

Read more Haridwar News in Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के
लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles