अलवर गैंगरेप केस: पुलिस के खिलाफ गुस्सा, BJP सांसद मीणा ने कहा- पुलिस वालों को हीं जेल में डालो

संक्षेप:

  • अलवर. पति को बंधक बना पत्नी के साथ गैंग रेप करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों हंसराज और महेश को गिरफ्तार कर लिया है
  • गैंग रेप के इस मामले में पुलिस अब तक 5 में से 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है
  • घटना 26 अप्रैल की है। पति और पत्नी गांव लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रहे थे। थानागाजी-अलवर बाईपास रोड पर दुहार चौगान वाले रास्ते में 5 युवकों ने उन्हें रोका और पति काे बंधक बनाकर मारपीट की

अलवर. पति को बंधक बना पत्नी के साथ गैंग रेप करने के मामले में पुलिस ने दो आरोपियों हंसराज और महेश को गिरफ्तार कर लिया है। हंसराज को देररात मथुरा से गिरफ्तार किया गया। वहीं, महेश को शाहपुरा से पकड़ा। गैंग रेप के इस मामले में पुलिस अब तक 5 में से 4 आरोपियों को गिरफ्तार कर चुकी है। इससे पहले बुधवार के दिन अशोक गुर्जर को गिरफ्तार किया गया था। इन तीनों के अलावा गैंग रेप के एक अन्य आरोपी इंद्राज गुर्जर पुत्र धर्मा गुर्जर को पुलिस पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है। पांचवा आरोपी छोटेलालअब भी फरार है। वहीं, वीडियो को वायरल करने वाले मुकेश नाम के व्यक्ति को भी गिरफ्तार किया गया है।

थानागाजी के एसओ, एसआई और तीन सिपाही सस्पेंड

ये भी पढ़े : मेरठ में सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, युवतियों से जबरदस्ती कराया जाता था गोरखधंधा


इससे पहले मंगलवार को डीजीपी ने अलवर के एसपी राजीव पचार को यहां से हटाकर कार्यमुक्त कर दिया था। हालांकि, कार्मिक विभाग ने इसके पीछे प्रशासनिक कारण बताए हैं। मामले में लापरवाही बरतने काे लेकर थानागाजी थाने के प्रभारी सरदार सिंह को सस्पेंड कर दिया गया।जबकि एएसआई रूपनारायण, सिपाही रामरतन, महेश कुमार और राजेंद्र काे लाइन हाजिर किया गया है। थानागाजी थाने में 29 पुलिसकर्मियों का स्टाफ है।

क्या है मामला

घटना 26 अप्रैल की है। पति और पत्नी गांव लालवाड़ी से तालवृक्ष जा रहे थे। थानागाजी-अलवर बाईपास रोड पर दुहार चौगान वाले रास्ते में 5 युवकों ने उन्हें रोका और पति काे बंधक बनाकर मारपीट की। पत्नी से गैंगरेप कर वीडियाे बना लिया। प्रारंभिक जांच में सामने आया है कि आरोपियों ने पीड़ित दंपती से वीडियो वायरल करने की धमकी देकर पैसे भी वसूल किए। आरोपियों ने फिर पैसों की डिमांड की तो परेशान दंपती 30 अप्रैल काे अलवर एसपी के पास पहुंचे थे। इसके बाद थानागाजी पुलिस थाने ने 2 मई काे एफआईआर दर्ज की। वीडियो वायरल होने के बाद घटना 6 मई को सार्वजनिक हुई।

आरोपी ट्रक ड्राइवर इंद्रराज ससुराल आया था

आईजी सेंगाथिर ने बताया कि मंगलवार को पकड़ा गया आरोपी इन्द्रराज ट्रक ड्राइवर है। वह 26 अप्रैल को थानागाजी स्थित ससुराल आया था। यहां साथी छोटेलाल, अशोक, महेश और हंसराज से मिला, तभी उसकी नजर बाइक से जा रहे दंपती पर पड़ी। उसके बाद उन्होंने अन्य साथियों को भी बुला लिया और दंपती का पीछा करना शुरू कर दिया। पांचों ने मिलकर दंपती को रोका और वारदात को अंजाम दिया। आरोपियों में दो नारायणपुर, दो थानागाजी और एक बानसूर का रहने वाला है।

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Related Articles