सिग्नल फेल होने से दो घंटे ठप रहा ग्वालियर- झांसी ट्रैक का यातायात

संक्षेप:

  • डबरा और सोनागिर स्टेशन के बीच सिग्नल फेल होने से ट्रैक का यातायात ठप।
  • छह ट्रेनें और चार मालगाड़ियां हुई लेट।
  • ट्रेनों में सवार यात्री परेशान रहे।

झाँसी- डबरा और सोनागिर स्टेशन के बीच आईबी सिग्नल फेल होने से मंगलवार की सुबह दो घंटे तक ग्वालियर झांसी के बीच अप ट्रैक का यातायात ठप रहा। इस मामले के कारण छह ट्रेनें और चार मालगाड़ियां लेट हो गईं। इससे ट्रेनों में सवार यात्री परेशान रहे।

मंडल के डबरा और सोनागिर स्टेशन के बीच मंगलवार की सुबह 8.45 बजे आईबी सिग्नल तकनीकी खराबी के कारण खराब हो गया। इससे ग्वालियर से झांसी की तरफ आ रही गाड़ियां अलग- अलग जगह खड़ी हो गईं। सूचना पर पहुंचे एसएनटी कर्मियों ने सिग्नल की खराबी को ठीक किया। इसके बाद 10.40 बजे यातायात को सामान्य बनाया जा सका। इस मामले के कारण 01882 इटावा झांसी स्पेशल ट्रेन 40 मिनट, 01058 पठानकोट एक्सप्रेस 30 मिनट, 12002 शताब्दी एक्सप्रेस 20 मिनट, 06156 तमिलनाडु संपर्क क्रांति 20 मिनट, 01806 आगरा झांसी पैसेंजर 20 मिनट, 06172 निजामुद्दीन अर्नाकुलम सुपरफास्ट एक्सप्रेस 20 और चार मालगाड़ियां 40 मिनट तक लेट हो गईं।

सदर्न एक्सप्रेस से टकराई बाइक
झांसी। ललितपुर स्टेशन के निकट बंद फाटक पर मंगलवार की रात सदर्न एक्सप्रेस से टकराकर एक बाइक क्षतिग्रस्त हो गई। गनीमत रही कि कोई बड़ा हादसा नहीं हो सका। आरपीएफ ने बाइक चालक की तलाश शुरू कर दी है।

ये भी पढ़े : वन विभाग के लापता दरोगा का मिला शव, सीबीगंज में दर्ज थी गुमशुदगी की रिपोर्ट


ललितपुर स्टेशन के निकट गेट नंबर 329 को निर्माण के चलते दो दिन के लिए बंद किया गया है। मंगलवार की रात एक युवक बंद गेट के नीचे से बाइक लेकर गुजर रहा था, तभी सामने से सदर्न एक्सप्रेस आ गई। ट्रेन को सामने आता देख युवक घबरा गया और मौके पर बाइक को पटरी पर छोड़कर भाग गया। इंजन से टकराते ही बाइक दूर जाकर गिरी। चालक ने ट्रेन को मौके पर रोककर इंजन की जांच की। जांच में सब ठीक मिलने के बाद चालक ने ट्रेन को आगे बढ़ाया। ट्रेन 20 मिनट तक मौके पर खड़ी रही। इस घटना के कारण मालवा एक्सप्रेस व अहमदाबाद बरौनी स्पेशल ट्रेन लेट हो गई।

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Read more Jhansi की अन्य ताज़ा ख़बरें पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें और अन्य राज्यों या अपने शहरों की सभी ख़बरें हिन्दी में पढ़ने के लिए NYOOOZ Hindi को सब्सक्राइब करें।

Related Articles