कानपुरः शोहदों से परेशान होकर अपने ही घर में कैद है ये लड़की

संक्षेप:

  • कार्रवाई न होने से बढ़ा शोहदे का हौसला
  • अब बीच सड़क पर करता है छेड़खानी
  • डर से घर में कैद हुआ परिवार

कानपुरः योगी सरकार सत्ता में आने के बाद सरकार से महिलाओं की सुरक्षा के लिए कड़े नियम बनाए साथ ही एंटी रोमियों दल भी बनाया। बावजूद इसके शोहदों पर लगाम लगाना सरकार के लिए अभी भी चुनौती बनी हुई है।

प्रदेश में लचर कानून व्यवस्था के चलते पीड़ितों को न्याय नहीं मिल पा रहा है। ऐसा ही मामला कानपुर में देखने को मिला जहां शोहदों से परेशान होकर एक परिवार ने अपनी बेटी को ही घर मे कैद कर लिया। इस परिवार को डर है की कही दबंग शोहदे इनकी बेटी के साथ कोई घटना न कर दें। आरोप है कि शोहदा युवती को बार-बार जान से मारने की धमकी दे रहा है। पीड़िता का आरोप है की पुलिस से कई बार शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की इससे परेशान होकर पीड़ित परिवार ने अपने आप को घर में कैद कर लिया।

बर्रा थाना के एक युवती को शोहदे की शिकायत करना महंगा पड़ गया है। आरोप है कि शोहदा युवती को बार-बार जान से मारने की धमकी दे रहा है। पीड़िता का आरोप है की पुलिस से कई बार शिकायत करने पर भी कोई कार्रवाई नहीं की इससे परेशान होकर पीड़ित परिवार ने अपने आप को घर में कैद कर लिया।

जानकारी के मुताबिक बर्रा विश्वबैंक इलाके की रहने वाली प्राइवेटकर्मी की बेटी एक निजी कंपनी में सेल्समैन है। परिवार में मां-पिता के साथ रहती है। युवती ने बताया की उसकी बड़ी सिस्टर लखनऊ में रहती है। जिसके फेसबुक में एक युवक उसके नाम से आईडी बनाकर सिस्टर को मैसेज कर युवती से दोस्ती करने के लिए उसका नंबर मांग रहा था। नंबर ना देने पर युवती की अश्लील फोटो बना वायरल करने की धमकी दे रहा था। जिसके बाद 26 जुलाई को युवती ने बर्रा थाने में एफआईआर दर्ज कराई। इसके बाद भी पुलिस शोहदे तक नहीं पहुंच सकी।

अब बीच सड़क पर करता है छेड़खानी

मामला दर्ज होने के बाद भी कोई कार्रवाई से बचे शोहदे का हौसला बुलंद हो गया है। अब वह बीच सड़क पर युवती को रोक कर दोस्ती ना करने पर बदनाम व जान से मारने की धमकी दे रहा है। पीड़िता की मां कहना है की शोहदे की धमकी से डर कर उन्होनें अपने पूरे परिवार को घर के अंदर कैद कर लिया। आरोप है की इसके शिकायत पीड़िता ने कई बार पुलिस अधिकारी के चैखट में कई बार शिकायत इसके बाद भी कोई कार्रवाई नहीं की।

ये हाल तब है जब जिले की कमान महिला अधिकारी के हाथ में है। जिले की DIG सोनिया सिंह देखे की किस तरह थाना पुलिस पीड़िता को सिर्फ चक्कर लगवा रही है औऱ उनके जिले में दबंगों के डर से एक बेटी को उसके घर वालों ने कैद कर लिया है।

यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट देखने के लिए यहां करें क्लिक

Read more Kanpur News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles