बारिश से आफत : यूपी में 11 की मौत, उत्तराखंड में अलर्ट जारी, बिहार में नदियां उफनाईं

संक्षेप:

  • उत्तरप्रदेश में लगातार बारिश से हुए हादसों में 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए।
  • श्रावस्ती में राप्ती नदी खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गई है, बाराबंकी में घाघरा खतरे के निशान के करीब है।
  • भिनगा-बहराइच फोर लेन सड़क एक तरफ धंस गई है।

उत्तरप्रदेश में लगातार बारिश से हुए हादसों में 11 लोगों की मौत हो गई, जबकि दो दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए। श्रावस्ती में राप्ती नदी खतरे के निशान के ऊपर पहुंच गई है, बाराबंकी में घाघरा खतरे के निशान के करीब है। भिनगा-बहराइच फोर लेन सड़क एक तरफ धंस गई है।
अवध क्षेत्र में हादसों में आठ लोगों की जान चली गई। इसमें रायबरेली के चार लोगों की मौत हो गई, तीन लोग घायल हो गए। गोण्डा के खोड़ारे में बालिका की मौत हो गई। तरबगंज में तीन लोग घायल हो गए। सीतापुर के महमूदाबाद में हसीना (40) और लहरपुर के लुधौरा मजरा नौवापुर में अनारकली (45) की दीवार गिरने से मौत हो गई। अम्बेडकरनगर में मकान गिरने से महिला की जान चली गई। बाराबंकी दीवार और छप्पर ढहने से चार लोग घायल हो गए। अयोध्या में चार दिनों एक दर्जन से अधिक मकान ढह गए।
इसी क्रम में पूर्वांचल के तीन जिलों में भी दीवार और कच्चा मकान गिरने से तीन लोगों की मौत हो गई है। गुरुवार को आजमगढ़ के मुबारकपुर थाना क्षेत्र के कुकुरसंडा गांव में सुबह तेज बारिश से कच्ची दीवार गिरने से तकदीर अली (65) की मौत हो गई, जबकि उसकी 30 वर्षीय बेटी घायल हो गई। चंदौली के चकिया कोतवाली क्षेत्र के शाहपुर गांव में सुबह कच्चा मकान ढह गया। मकान के मलबे में दबने से 22 वर्षीया विवाहिता सविता की मौत हो गई। जौनपुर के खेतासराय के मनेछा में गिरी दीवार के मलबे में दबने से अमरावती (55) पत्नी स्व.बुद्धू बिन्द की मौत हो गई।

प्रयागराज में वज्रपात, 35 गायें मरीं
सहसों (प्रयागराज)। बहादुरपुर विकास खंड के कांदी गांव में गुरुवार सुबह वज्रपात से गोशाला में 35 मवेशियों की मौत हो गई। सूचना पर सुबह डीएम, सीडीओ, मुख्य पशुचिकित्साधिकारी समेत तमाम अफसर पहुंचे। गोशाला में काफी पानी भरा हुआ था। जीवित गायों और गोवंशों को दूसरे स्थान पर रखवाया गया।

यूपी पर कई दिनों से मेहरबान मानसून अब लेगा विराम
उत्तर प्रदेश पर कई दिनों से मेहरबान मानसून अब विराम लेगा। मौसम निदेशक जे.पी.गुप्ता के अनुसार उत्तरी पूर्वी इलाकों को छोड़कर प्रदेश के बाकी हिस्सों में अगले दो दिनों में मौसम साफ हो जाएगा। लखनऊ और आसपास के इलाकों में तो शुक्रवार से ही बादल छंटने लगेंगे। फिलहाल अगले 24 घंटों के दरम्यान प्रदेश के पूर्वी व पश्चिमी अंचलों में कुछ स्थानों पर भारी बारिश हो सकती है।

ये भी पढ़े : राजस्थान सरकार ने शिक्षित बेरोजगारों को दिया 122.43 करोड़ रुपये का भत्ता


उत्तराखंड में आज भी भारी बारिश का अलर्ट
देहरादून। उत्तराखंड मौसम विज्ञान केंद्र ने शुक्रवार को देहरादून, नैनीताल, चंपावत, ऊधमसिंहनगर, पिथौरागढ़, चमोली, टिहरी, पौड़ी और हरिद्वार जनपदों में भारी से बहुत भारी बारिश होने का अलर्ट जारी किया है।

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Read more Lucknow Hindi News here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles