इस बीजेपी विधायक ने जताई मुन्ना बजरंगी की मौत पर खुशी

संक्षेप:

  • डॉन मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या
  • सुनील राठी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज
  • गाजीपुर से बीजेपी विधायक अलका राय ने खुशी जताई

बागपत जेल में डॉन मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई। एक के बाद एक करीब 8 से 10 गोलियां चलाई गई। जेल सिक्योरिटी जैसे ही मौके पर पहुंची, तो देखा फर्श पर एक कैदी की लाश खून से लथपथ हालत में पड़ी थी। हत्या का आरोप सुनील राठी पर लगा है, जिसके चलते सुनील राठी के खिलाफ हत्या का केस दर्ज लिया है और पूछताछ कर रही है। वहीं मुन्ना बजरंगी की मौत पर यूपी की एक महिला ने खुशी जताई है।

दरअसल, यूरी के गाजीपुर के मोहम्मदाबाद से बीजेपी की विधायक और दिवंगत कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने खुशी जताई हैं। मुन्ना बजरंगी उत्तर प्रदेश के चर्चित कृष्णानंद राय हत्याकांड का मुख्य अभियुक्त था। आरोप है कि यूपी के दूसरे माफिया डॉन मुख्तार अंसारी के कहने पर मुन्ना बजरंगी ने कृष्णानंद राय की हत्या की थी। 29 नवंबर 2005 को गाजीपुर में कृष्णानंद राय और उनके 6 साथियों को गोली मारी थी। इस हमले में सभी लोगों की मौत हुई थी।

कृष्णानंद राय की पत्नी अलका राय ने कहा कि उन्होंने टीवी पर इस खबर को देखा तो उन्हें खुशी हुई। उन्होंने कहा, कि मुझे बहुत खुशी हुई, मैं भगवान से रोज मांगती थी कि भगवान इसका न्याय मिले; भगवान की मर्जी से, प्रभु की कृपा से ये घटना हुई तो हमको काफी खुशी मिली; जो महिलाएं जो परिवार ऐसे अपराधियों से पीड़ित थीं, विधवा हुईं, बच्चे अनाथ हुए, किसी-किसी का तो आह लगबे करेगा; लगता है कि भगवान के द्वारा ही न्याय मिलेगा’

ये भी पढ़े : यूपी: पैसे देकर हो रही मनचाही पोस्टिंग, वाट्सअप चैट वायरल !


वहीं मामले को लेतक पुलिस उपमहानिदेशक चंद्र प्रकाश ने बताया कि माफिया डॉन बजरंगी को विधायक लोकेश दीक्षित से पिछले साल रंगदारी मांगे जाने के मामले में आज स्थानीय अदालत में पेशी के लिये कल झांसी कारागार से बागपत जेल लाया गया था। उन्होंने बताया कि बजरंगी को तन्हाई बैरक में 10 अन्य कैदियों के साथ रखा गया था। उनमें कुख्यात बदमाश सुनील राठी भी शामिल था। राठी ने सुबह किसी बात को लेकर हुई बहस के बाद बजरंगी पर कई गोलियां चलायीं, जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गयी।

प्रकाश ने बताया कि हत्या के बाद राठी ने हथियार को सीवर में फेंक दिया। जेल में हथियार कैसे पहुंचा, इसकी जांच की जा रही है। बजरंगी पर हत्या, लूट, अपहरण समेत अनेक जघन्य अपराधों के करीब 40 मुकदमे दर्ज थे।

अन्य मेरठ समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के
लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें|

Related Articles