नैनीताल: शराबबंदी को लेकर हो रहे प्रदर्शन से लगा जाम

  • Friday | 7th April, 2017
संक्षेप:

  • महिलाओं ने शराब की दुकानों का किया विरोध
  • लाठी-डंडों के साथ दुकानदारों को घेरा
  • सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद भी नेशनल व स्टेट हाईवे पर शराब की दुकानें

नैनीताल: प्रेमपुर लोश्ज्ञानी गांव में देसी-विदेशी शराब की दुकानें खुलने का विरोध काफी समय से हो रहा है। वहां के लोगों को ज्यों ही पता चला कि शराब की दुकानें फिर से खोली गई हो तो एक साथ कई गांवों की महिलाएं लाठी-डंडे लेकर मौके पर पहुंच गईं। उन्होंने छड़ायल चौराहे के पास जाम लगाकर हंगामा काटा। साथ ही दुकान से शराब हटाने पर ही जाम खोलने की चेतावनी दी।

सूचना पर मुखानी थाना व टीपीनगर चौकी पुलिस मौके पर पहुंची और लोगों को शांत कराया। करीब तीन घंटे तक लोगों का हंगामा चलता रहा। वहीं जाम खोलने के बाद महिलाएं क्षेत्र में अवैध तरीके से शराब की बिक्री करने वालों के घर पहुंची और जमकर हंगामा काटा।

सुप्रीम कोर्ट के आदेश पर नेशनल व स्टेट हाईवे से शराब की दुकानें हटने पर इन्हें अंदरूनी क्षेत्रों में शिफ्ट किया जा रहा है। इस चौतरफा विरोध हो रहा है। भारी विरोध से अब तक हल्द्वानी में एक भी शराब की दुकान शिफ्ट नहीं हो पाई है।

ये भी पढ़े : सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार को जारी किया नोटिस, पूछा- 2007 में भड़काऊ भाषण देने पर मुख्यमंत्री योगी के खिलाफ केस क्यों नहीं किया जाना चाहिए


वहीं, देसी-विदेशी शराब की दुकानों को हाईवे से शिफ्ट कर प्रेमपुर लोश्ज्ञानी गांव में खोला जा रहा था। दुकानों में शराब पहुंचने का पता लगने की प्रेमपुर लोश्ज्ञानी समेत आनंदपुर, करायल चतुर सिंह, पूरनपुर, छड़ायल, हल्दूपोखरा नायक, करायल जौलासाल के ग्रामीण लामबंद हो गए।

सुबह करीब आठ बजे दर्जनों महिलाओं संग जनप्रतिनिधि दुकानों के आगे पहुंच गए। लाठी-डंडों से लैस महिलाओं ने दुकान के आगे जाम लगाकर नारेबाजी शुरू कर दी और किसी कीमत पर शराब की दुकान नहीं खुलने की चेतावनी दी। पुलिस के समझाने पर करीब 11 बजे महिलाओं ने जाम खोला।

Read more Nainital News in Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles