बेंगलुरु के इस कॉन्स्टेबल ने किया बहादुरी का काम, इनाम में मिला ‘हनीमून पैकेज’

संक्षेप:

बेंगलुरु में पुलिस विभाग ने एक कॉन्स्टेबल को बहादुरी का अनोखा इनाम मिला। दरअसल, बेल्लांडुर पुलिस स्टेशन पर तैनात कॉन्स्टेबल ने अपनी जान दांव पर लगाकर अकेले शातिर बदमाश को पकड़ा। कॉन्स्टेबल की इस काम से खुश पुलिस विभाग ने उसे हनीमून पर भेजने का फैसला किया। कॉन्स्टेबल केई वेंकटेश को 25000 रुपए का हनीमून पैकेज पर केरल भेजा जा रहा है। इसके साथ ही 10 हजार रुपए कैश भी दिया जाएगा।

दरअसल, गुरुवार को वेंकटेश की पोस्टिंग बेल्लांडुर के सरजापुर रोड पर स्थित बिग बाजार के पास थी, जहां उन्हें ड्यूटी के दौरान चोर-चोर करके चिल्लाने की आवाज सुनाई पड़ी। दो बाइक सवार लुटेरों ने केएफसी में काम करने वाले हनुमंथ नाम के व्यक्ति को चाकू की नोक पर धमकी देते हुए उसका फोन चोरी कर लिया था। फोन चोरी होने पर हनुमंथ ने चोर-चोर चिल्लाना शुरू कर दिया। हनुमंथ की आवाज सुनकर वेंकटेश ने अपनी बाइक पर चोरों का पीछा किया।

करीब चार किलोमीटर तक बाइक से पीछा करने के बाद आखिरकार वेंकटेश चोरों के पास पहुंच गया और पीछे बैठे चोर अरुण कुमार को पकड़ने में कामयाब हो गया। अरुण के ही हाथ में हनुमंथ का फोन था। इस पूरी प्रक्रिया के दौरान वेंकटेश को कई चोटें भी लगीं, लेकिन उसने हिम्मत नहीं हारी और अपना फर्ज निभाया। फिलहाल वेंकटेश इस वक्त अस्पताल में भर्ती हैं और उनका इलाज किया जा रहा है। वहीं हनुमंथ को भी उसका फोन वापस मिल गया।

ये भी पढ़े : जानिए एसबीआई ने परीक्षार्थियों को क्यों किया आगाह


बेल्लांडुर पुलिस स्टेशन के इंस्पेक्टर विक्टर सिमॉन का कहना है कि वेंकटेश को इस कार्रवाई के दौरान हाथ और घुटने में चोटें आई हैं, और उनका इलाज चल रहा है। विक्टर को अपने सहयोगी की बहादुरी पर काफी गर्व है। उन्होंने कहा कि यह बहुत ही बहादुरी वाला काम है। अकेले, अपने दम कर उसने बाइक सवार लुटेरों का पीछा किया और एक को पकड़ भी लिया।

Read more Noida News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles