नोएडा: फेसबुक पर अभिभावकों की अपील, 18 जुलाई को बच्चों को न भेजे स्कूल

संक्षेप:

  • स्कूल प्रबंधक के खिलाफ अभिभावकों ने खोला मोर्चा
  • फेसबुक पर Apeejay parents नाम के पेज पर एक पोस्ट
  • 18 जुलाई को एपीजे स्कूल में बच्चों को न भेजने की अपील

नोएडा- नोएडा में स्कूलों की मनमानी की खबरें लगातार सुर्खियों में बनी हुई है। जिसके चलते अभिभावकों को खासी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। इस कड़ी में अभिभावकों ने स्कूल प्रबंधक के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। जिसके चलते अभिभावकों ने एपीजे स्कूल में फीस में हो रही बढ़ोतरी के के खिलाफ एकजुट होकर प्रदर्शन करने का फैसला लिया है लेकिन इस बार प्रदर्शन का तरीका थोड़ा अलग है। इस बार अभिभावकों अपने बच्चों को स्कूल न भेज कर अपना विरोध दर्ज करवाएंगे।

फेसबुक पर Apeejay parents नाम के पेज पर एक पोस्ट किया गया है, जिसमें लिखा है कि आने वाली 18 जुलाई को एपीजे स्कूल में हो रही फीस वृद्धि के खिलाफ मास बंक कराए और अपने बच्चों को स्कूल न भेजें। इस मैसेज में लिखा है कि “Parents there is a plan for mass leave of students on 18th July as a 1st step for protest against Fee hike.”

आपको बता दें कि लगातार हो रही फीस वृद्धि और स्कूल की मनमाने के खिलाफ अभिभावक लगातार परेशानी का सामना कर रहे हैं और बार-बार स्कूलों के चक्कर काट रहे हैं। आलम यह हो चुका है कि छात्रों के माता-पिता द्वारा किए गए प्रदर्शन के बाद भी स्कूल प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है।

ये भी पढ़े : मोदी सरकार ने तीन तलाक अध्यादेश को दी मंजूरी, यूपी से आए सबसे ज्यादा मामले


प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भी इस मामले पर अभी तक कोई गंभीर और कड़ा कदम नहीं उठाया है। जिसके बाद अभिभावकों ने खुद ही अब नए तरीके से प्रदर्शन करने का निर्णय लिया है और आने वाली एपीजे स्कूल के अभिभावकों से सोशल मीडिया के ज़रिए यह अपील की गई है कि आने वाली 18 जुलाई को अपने बच्चों को स्कूल न भेजें और एक मास बंक करें। यह पोस्ट सोशल मीडिया पर वायरल होने लगा है।

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Read more Noida News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles