बरेली: रेप की सजा से बचने के लिए की पीड़िता से शादी, बाहर आने पर मुकर गया आरोपी फौजी

संक्षेप:

  • फौजी ने रेप की सजा के बचाव के लिए जेल में की पीड़िता से शादी
  • जेल से बाहर आने पर आरोपी फौजी ने पत्नी मानने से किया इनकार
  • पीड़िता ने कहा- अगर नहीं मिला न्याय तो कर लेगी आत्महत्या

बरेली: बरेली में सनसनीखेज मामला सामने आया, जहां रेप के मामले में फौजी ने बचाव के लिए जेल में ही पीड़िता से निकाह कर लिया, लेकिन जब वह जेल से बाहर आया तो उसने रेप पीड़िता को अपनी पत्नी मानने से इंकार कर दिया है। पीड़िता का आरोप है कि वह पुलिस से गुहार लगा रही है। मगर कोई कार्रवाई नहीं हो रही है। उसका कहना है कि अगर उसने न्याय नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी।

जानकारी के मुताबिक, मामला हाफिजगंज थाना क्षेत्र के हरहरपुर गांव है, युवती का आरोप है कि 2015 में उसके फुफेरे भाई ने उसे निकाह का झांसा देकर शारीरिक संबंध बनाए थे। दोनों के संबंधों के बारे में उनके परिवारों को पता चलने के बाद निकाह की बात चली तो युवक ने निकाह करने से मना कर दिया। युवती ने काफी गुहार की लेकिन युवक नहीं माना।

इसी दौरान उसकी सेना में नौकरी लग गई और तैनाती कश्मीर में हो गई और कोई हल नहीं निकला। इसके बाद पीड़िता ने अक्तूबर 2017 में थाना हाफिजगंज में शादी का झांसा देकर रेप का मामला दर्ज कराया। पुलिस ने आरोपी फौजी को गिरफ्तार कर कोर्ट में पेश किया। जहां से उसे जेल भेज दिया। पीड़िता का आरोप है कि फौजी के परिवार के लोग उसके घर आए और उसे झांसा दिया कि अगर वह केस वापस ले लेगी तो फौजी से उसका निकाह करा दिया जाएगा।

ये भी पढ़े : Viral: बागपत सीओ को इस बीजेपी नेता के सामने दी गई टुक्ड़े-टुक्ड़े करने की धमकी


इस बात पर युवती सहमत हो गई और जेल में ही निकाह कर लिया। आरोप है कि 28 दिसंबर 2017 को फौजी जेल से रिहा हो गया, लेकिन जब पीड़िता ने बतौर बीवी उसके घर जाने की कोशिश की लेकिन फौजी मुकर गया। उसने उसे धमकी दी कि उसे जलाकर मार देगा। पीड़िता का कहना है कि अगर उसे इंसाफ नहीं मिला तो वह आत्महत्या कर लेगी। बताया जा रहा है कि आरोपी फौजी इस समय कश्मीर बॉर्डर पर तैनात है।

Read more Noida News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles