Red Corridor के आतंक को खत्म करने के लिए छत्तीसगढ़ में बिछाया जाएगा मोबाइल नेटवर्क का जाल

संक्षेप:

  • छत्तीसगढ़ समेत देश के नक्सल प्रभावित 10 राज्यों में मोबाइल नेटवर्क का जाल बिछाया जा रहा है.
  • बीते पांच वर्षों में इन राज्यों में कुल 2343 टॉवर खड़े किए गए हैं.
  • बीते पांच वर्षों में इन राज्यों में कुल 2343 टॉवर खड़े किए गए हैं.

रायपुर: छत्तीसगढ़ समेत देश के नक्सल प्रभावित 10 राज्यों में मोबाइल नेटवर्क का जाल बिछाया जा रहा है। बीते पांच वर्षों में इन राज्यों में कुल 2343 टॉवर खड़े किए गए हैं। इनमें 525 अकेले छत्तीसगढ़ में स्थापित किए गए हैं। यहां के लिए कुल 532 टॉवर केंद्र सरकार ने स्वीकृत किए थे, लेकिन सुरक्षाकारणों से सात टावर नहीं लगाए जा सकें हैं। वहीं झारखंड में सबसे ज्यादा 816 टावर लगाए गए हैं। गृह विभाग के अफसरों ने बताया कि केंद्र सरकार ने नक्सल प्रभावित क्षेत्रों में सूचनातंत्र को मजबूत करने के लिए 2014 में मोबाइल टावर लगाने का फैसला किया था। इसके तहत दो बार में कुल 2355 टॉवर स्वीकृत किए गए। इसमें से मार्च 2017 में 2199 और नवंबर 2018 तक 156 टावर स्थापित कर चालू कर दिए गए हैं। अफसरों के अनुसार करीब 39 हजार वर्ग किलोमीटर से अधिक क्षेत्र में फैले बस्तर में करीब 841 टॉवर लगाए गए हैं। इनमें से 644 बीएसएनएल के हैं। निजी कंपनियों के करीब 197 टॉवर हैं।

इनमें से अधिकांश वहां के शहरी क्षेत्रों में हैं। इसके बावजूद बस्तर अब भी पूरी तरह मोबाइल नेटवर्क में नहीं आ पाया है। नक्सली खतरे की वजह से अंदस्र्नी क्षेत्र में टावर नहीं लग पा रहे हैं। गृह विभाग के एक वरिष्ठ अफसर ने कहा कि मोबाइल नेटवर्क के विस्तार से निश्चित स्र्प से नक्सलियों को नियंत्रित करने में मदद मिलेगी। अभी नेटवर्क नहीं होने के कारण सूचनाओं के अादान- प्रदान में काफी दिक्कत होती है।

नक्सली करते हैं मोबाइल नेटवर्क और फोन का विरोध

ये भी पढ़े : शनिवार को राजधानी भोपाल में नेता प्रतिपक्ष और बीजेपी के वरिष्ठ नेता गोपाल भार्गव (Gopal Bhargav) ने न्यूज़ 18 से खास बातचीत में सागर (Sagar) की घटना का जिक्र करते हुए कहा कि सागर में एक युवक को केरोसिन डालकर जला दिया गया लेकिन पुलिस एक धर्म विशेष के आरोपियों को बचाने की कोशिश कर रही है


नक्सली मोबाइल फोन और नेटवर्क को अपने लिए खतरा मानते हैं। यही वजह है कि पूर्ववर्ती सरकार में जब मोबाइल बांटा गया तो नक्सलियों ने पहले मोबाइल न लेने का फरमान जारी किया। मोबाइल छीनने और मोबाइल रखने वालों को प्रताड़ित करने की भी कई घटनाएं हुईं।

नक्सल प्रभावित राज्यों में मोबाइल टावर

राज्य स्वीकृत स्थापित

आंध्र प्रदेश 62 62

बिहार 250 250

छत्तीसगढ़ 532 525

झारखंड 816 816

महाराष्ट्र 65 65

मध्यप्रदेश 22 22

ओडिशा 261 256

तेलगांना 173 173

उत्तर प्रदेश 78 78

पश्चिम बंगाल 97 96

कुल 2355 2343

राज्य के पांचों संभागों में टेलीकॉम कवरेज की स्थिति

संभाग क्षेत्रफल नेटवर्क प्रतिशत

बस्तर 39104.50 7484.45 19.14

बिलासपुर 25830.31 13779.69 53.35

दुर्ग 20784.01 12005.94 57.77

रायपुर 21242.85 11349.51 53.43

सरगुजा 28201.14 11715.44 41.54

(नोट- क्षेत्रफल व नेटवर्क एरिया वर्ग किमी में)

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

अन्य रायपुर न्यूज़ हिंदी में पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में
पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles