यूपी की कानून व्यवस्था को लेकर ये बोले कलराज मिश्र

संक्षेप:

  • वाराणसी पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री कलराज मिश्र
  • यूपी की कानून व्यवस्था को लेकर ये बोले कलराज मिश्र
  • गोशाला खोले जाने की पहल को बताया अच्छा

वाराणसी: उत्तर प्रदेश में अपराध रुकने का नाम नहीं ले रहा है। विपक्ष तो विपक्ष अब बीजेपी के ही नेता मानने लगे हैं कि प्रदेश की कानून व्यवस्था का हाल ठीक नहीं है। वाराणसी पहुंचे पूर्व केंद्रीय मंत्री और बीजेपी के सांसद कलराज मिश्र ने भी यह माना कि सरकार किसी की हो घटनाएं हो रही हैं लेकिन महत्वपूर्ण यह है कि इन घटनाओं को रोका कैसे जाए।

एक कार्यक्रम में हिस्सा लेने के लिए वाराणसी पहुंचे कलराज मिश्र ने सर्किट हाउस में मीडिया से बातचीत के दौरान कहा कि अपराध के मामलों में आंकड़ों के फेर में नहीं फंसना चाहिए, क्योंकि आंकड़े कई प्रकार के आते हैं। प्रश्न यह है की घटनाएं हो रही हैं, चाहे अखिलेश की सरकार हो या चाहे इसके पहले की सरकार हो चाहे हमारी सरकार हो। यह घटनाएं न होने पर यह प्रयास होना चाहिए। किसी शासन में घटनाएं ज्यादा होती हैं किसी की शासन में कम घटनाएं होती है। यह महत्वपूर्ण नहीं है, महत्वपूर्ण यह है कि घटनाओं को रोकने के लिए शासन-प्रशासन और आमजन इसे रोकने का किस तरह प्रयास कर रहा है। इस पर बात होनी चाहिए हमारी सरकार हमारी पार्टी इस दिशा में ज्यादा जोर दे रही है कि ऐसी घटनाएं न हो और अगर हो रही है तो इनको कैसे नियंत्रित किया जाए। इस पर हम कोशिश कर रहे हैं।

वहीं कलराज मिश्र ने सीएम योगी की तरफ से जेलों में गोशाला खोले जाने की पहल को अच्छा बताते हुए कहा कि सरकार ने इस फैसले को पूर्णता के हिसाब से लागू किया है। मैं सरकार के इस कदम का स्वागत करता हूं क्योंकि गोशाला खोलने के बाद जो कैदी हैं या अंडर ट्रायल हैं वह गायों की सेवा करेंगे और उनको पुण्य भी प्राप्त होगा क्योंकि गौ सेवा पवित्र सेवा है। एक सकारात्मक वातावरण का निर्माण होता है। निश्चित रूप से सकारात्मक वातावरण का निर्माण होगा तो सकारात्मक प्रवृत्ति बनेगी और आपराधिक प्रवृत्ति का विनाश होगा।

ये भी पढ़े : शाहजहांपुर के किसान कल्याण रैली में ये-ये बोले पीएम मोदी और सीएम योगी


वहीं राम मंदिर को लेकर सुप्रीम कोर्ट में राम मंदिर परिसर में नमाज पढ़ने को लेकर शुरू हुई सुनवाई पर कहा कि सुप्रीम कोर्ट के फैसले पर मैं कोई टिप्पणी नहीं करना चाहता लेकिन मैं इतना जानता हूं कि सुप्रीम कोर्ट ने फैसला दिया है कि वह गर्भ गृह रामलला का है। उस पर बात चल रही है, मैं मानता हूं सुप्रीम कोर्ट जल्द ही फैसला करेगा। मुझे विश्वास है कि फैसला भी सकारात्मक दिशा में होगा लोगों की जो मंशा है, वह मंशा के अनुरूप वहां भव्य स्वरूप में राम मंदिर का निर्माण हो बस यह जरूरी है।

अरविंद केजरीवाल और दिल्ली के उपराज्यपाल के बीच तनातनी पर कलराज मिश्र ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा है कि उप राज्यपाल और मुख्यमंत्री सामंजस्य के आधार पर काम करें। मुझे लगता है कि निश्चित रूप से सुप्रीम कोर्ट का निर्देश उनके लिए आगे बढ़ने की दृष्टि से सहायक सिद्ध होगा, लेकिन केजरीवाल की तरफ से बार-बार उपराज्यपाल पर आरोप लगाए जाने पर कहा कि केजरीवाल की बातों पर मैं बहुत ज्यादा टिप्पणी नहीं करता हूं क्योंकि जनता को देख रही है।

अन्य वाराणसी ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें
हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles