चुनावी यादें : मुलायम सिंह यादव के वो पांच मिनट और मुस्लिमों ने बृजभूषण तिवारी को जीता दिया

वाराणसी. 1996 लोकसभा चुनाव को लेकर देश भर में चुनाव प्रचार चरम पर था ।

सिद्धार्थनगर के डुमरियागंज सीट पर चुनावी मुकाबला काफी दिलचस्प बन चुका था।

सपा उम्मीदवार बृजभूषण तिवारी की हालत खराब थी, 1991 में मिली हार के बाद बृजभूषण तिवारी जनता से कट चुके थे, क्षेत्र में उनके प्रति लोगों में नाराजगी थी, उनके जीतने की किसी को उम्मीद नहीं थी।

मगर ऐसे वक्त में मुलायम सिंह ने ऐसा जादू किया कि बृजभूषण तिवारी चुनाव जीत गये।

1996 के चुनाव में यादव भी पूरी तरह सपा के साथ नहीं जुड़ पाये थे और मुस्लिम पूरी तरह बृजभूषण तिवारी से नाराज थे।

मुसलमान कांग्रेस की उम्मीदवार मोहसिना किदवई और निर्दल सीमा मुस्तफा के पक्ष में बंटे थे।

भाजपा से रामपाल सिंह और कांग्रेस के अमरमणि त्रिपाठी हिंदू मतदाताओं को अपने पक्ष में करने में लगभग सफल हो गये थे।

समाजवादी पार्टी के लिये चुनौती काफी बड़ी थी, ऐसे में मुलायम सिंह यादव ने एक दांव खेला।

मुलायम सिंह यादव का पांच मिनट का भाषण और जीत गया सपा उम्मीदवार :मुलायम सिंह यादव को डुमरियागंज सीट पर पार्टी की हालत खस्ता होने की जानकारी मिली तो उन्होंने रिस्क लेते हुए ईद के दिन जनसभा करने का निर्णय लिया ।

डिसक्लेमर :ऊपर व्यक्त विचार इंडिपेंडेंट NEWS कंट्रीब्यूटर के अपने हैं,
अगर आप का इस से कोई भी मतभेद हो तो निचे दिए गए कमेंट बॉक्स में लिखे।

अन्य वाराणसी ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें
हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles