पुरुषों की शारीरिक समस्याओं के लिए सफेद मूसली के फायदे

पुरुषों को यौन समस्याएं होने पर वे इतनी शर्मिंदगी महसूस करने लगते हैं कि ना तो वो डॉक्टर के पास जाते हैं ना ही किसी और से इस बारे में बात करते हैं। आगे चलकर यही बीमारियां गभीर रूप धारण कर लेती हैं।

आयुर्वेद में सेक्स से जुड़ी समस्याओं के लिए तमाम तरह के घरेलू उपाय बताए गए हैं। सफेद मूसली भी ऐसी ही एक जड़ी-बूटी है जो पुरुषों के यौन रोगों में बहुत फायदा पहुंचाती है। पतंजलि आयुर्वेद द्वारा निर्मित “सफेद मूसली पतंजलि आज कल काफी प्रचलन में है।

सफेद मूसली के फायदे :

कई आयुर्वेदिक चिकित्सकों का मानना है कि अधिकांश लोग जब किसी यौन रोग को लेकर उनके पास आते हैं तो पतंजलि सफ़ेद मूसली के फायदे ज़रुर पूछते हैं। दरअसल वे ये जानना चाहते हैं कि सच में सफ़ेद मूसली उनके रोग को ठीक कर देगी या यह सिर्फ बाज़ार द्वारा फैलाई गई भ्रांतियां हैं।

आयुर्वेद में सफ़ेद मूसली के कई गुणों का विस्तृत उल्लेख मिलता है। जिसके अनुसार यह जंगली में अपने आप उगने वाला एक पौधा है जिसकी जड़े काफी गुणकारी होती है। आइये जानते हैं कि सेक्स से जुड़ी समस्याओं में सफ़ेद मूसली कितनी कारगर है।

नपुंसकता दूर करने में सहायक :

नपुंसकता से सीधा मतलब यह है कि एक पुरुष की बच्चे पैदा करने की क्षमता खत्म हो जाना। हालांकि यह समस्या एकदम से नहीं हो जाती है बल्कि धीरे धीरे बढ़ती है। इसलिए अगर शुरूआती चरण में ही आप नपुंसकता का इलाज करान शुरु कर देते हैं तो इसे बढ़ने से रोका जा सकता है।

आयुर्वेद के अनुसार सफ़ेद मूसली वीर्य का उत्पादन बढ़ाती है और साथ ही साथ यह वीर्य की क्वालिटी में भी सुधार लाती है। विशेषज्ञों का मानना है कि अगर कौंच बीज के साथ सफ़ेद मूसली का नियमित सेवन किया जाए तो नपुसंकता के खतरे को काफी हद तक कम किया जा सकता है।

शीघ्रपतन रोकने सफ़ेद मूसली के फायदे :

शीघ्रपतन पुरुषों से जुड़ी एक समस्या है जिसमें सेक्स के दौरान पुरुषों का स्खलन बहुत ही कम समय में हो जाता है। आधुनिक चिकित्सा के अनुसार अगर आप सेक्स के दौरान शुरूआती एक मिनट के अंदर ही डिस्चार्ज (स्खलित) हो जा रहे हैं तो आप शीघ्रपतन के शिकार है। शीघ्रपतन की समस्या कई कारणों से हो सकती है जिसमें मानसिक तनाव, डिप्रेशन और डायबिटीज प्रमुख हैं।

आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार पतंजलि सफ़ेद मूसली चूर्ण को कई लोग शीघ्रपतन की दवा के रूप में इस्तेमाल करते हैं। यह चूर्ण शीघ्रपतन रोकने में बहुत कारगर है। लेकिन फिर भी इसे चिकित्सक की सलाह के बाद ही इस्तेमाल करें।

शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाने में मदद करता है :

शुक्राणुओं की संख्या में कमी (Low Sperm Count)  भी आज के समय की एक गंभीर यौन समस्या है। इसके कारण आपकी प्रजनन क्षमता पर नकारात्मक असर पड़ता है। आयुर्वेदिक विशेषज्ञों के अनुसार सफेद मूसली शुक्राणुओं की संख्या बढ़ाता है साथ ही वीर्य की गुणवत्ता भी बढ़ा देता है। इसलिए अगर आपका स्पर्म काउंट काफी कम है तो आयुर्वेदिक चिकित्सक से परामर्श लेकर पतंजलि सफेद मूसली का सेवन करें।

कामोत्तेजना बढ़ाता है सफेद मूसली :

ऊपर बताए गए फायदों के अलावा भी सफेद मूसली के कई फायदे हैं, जैसे कि यह सिर्फ यौन रोगों के उपचार में ही काम नहीं आती बल्कि यह कामोत्तेजना भी बढ़ाती है। जी हाँ, आयुर्वेद के अनुसार सफ़ेद मूसली में कामोत्तेजक गुण पाए जाते हैं। अगर आपकी सेक्स लाइफ काफी बोरिग हो चुकी है और आप खुद की सेक्स की इच्छा में कमी महसूस कर रहे हैं तो सफ़ेद मूसली आपके लिए एक कारगर औषधि है। नजदीकी चिकित्सक के पास जाएं और उनसे सफेद मूसली की खुराक के बारे में राय लें।

यह सच है कि सफ़ेद मूसली पुरुषों की शारीरिक समस्याएं दूर करने की एक कारगर औषधि है। लेकिन इसका मतलब यह बिल्कुल भी नहीं कि आप बिना डॉक्टर की सलाह लिए जब मन करे तब इसका सेवन करने लगें। आवश्यकता से अधिक मात्रा में सफेद मूसली का सेवन भी सेहत के लिए बहुत नुकसानदायक है। इसलिए अगर आप शीघ्रपतन, इरेक्टाइल डिसफंक्शन या नपुंसकता के लिए पतंजलि सफेद मूसली का सेवन करन चाहते हैं तो पहले डॉक्टर से संपर्क करें।

Related Articles

Leave a Comment