इलाहाबाद में ऋषि भारद्वाज के प्रतिमा की मांग, कुंभ मेले को लेकर 100 स्पेशल ट्रेनें

संक्षेप:

  • इलाहाबाद में हुआ अनोखा प्रदर्शन
  • महर्षि भारद्वाज मुनि की प्रतिमा लगाने की मांग
  • कुम्भ को लेकर सौ स्पेशल ट्रेनें चलाने का लिया गया फैसला

इलाहाबाद: इलाहाबाद में डीएम ऑफिस में भारद्वाज की 51 फीट की मूर्ति लगाने जाने को लेकर अनोखा प्रदर्शन हुआ है ,भारत भाग्य विधाता के वैनर तले वेद पाठी बटुको ने हाथो में बैनर लेकर डीएम ऑफिस में वेद पाठ कर प्रदर्शन किया।

टीकरमाफी के महंत हरि चैतन्य ब्रह्मचारी के अगुवाई में डीएम ऑफिस पहुंचे। प्रदर्शन कर रहे लोगों की मांग है कि तीर्थराज प्रयाग के महर्षि भारद्वाज मुनि थे, माघ मेला और कुम्भ मेला के प्रेरणा स्रोत की प्रयाग में कोई प्रतिमा नहीं है ऐसे में भारद्वाज की विशाल प्रतिमा तीर्थराज प्रयाग में बननी चाहिए।

प्रदर्शन कर रहे लोगों ने डीएम के जरिये ज्ञापन देकर मुख्यमंत्री से मांग की है की सरकार जल्द ही भारद्वाज मुनि प्रतिमा का निर्माण कराये। आपको बता दें कि श्रृंग्वेरपुर में निषादराज गुह  विशाल प्रतिमा सरकार ने बनवाने  ऐलान किया, उसको बाद से ही ऋषि भारद्वाज की विशाल प्रतिमा की मांग होने लगी है।

खबर नंबर- 2: कुम्भ मेले को लेकर चलेगी सौ स्पेशल ट्रेनें

प्रयाग की धरती पर जनवरी 2019 में लगने वाले कुम्भ को लेकर रेलवे ने सौ स्पेशल ट्रेनें चलाने का फैसला लिया है। सभी स्पेशल ट्रेनों का संचालन तय शेड्यूल के तहत ही किया जायेगा। कुम्भ मेले से पहले जिला प्रशासन और मेला प्रशासन से बातचीत के बाद ही ट्रेनों का शेड्यूल और रूट प्लान तैयार किया जायेगा।

इस बात की जानकारी डीआरएम इलाहाबाद मण्डल संजय कुमार पंकज ने दी है। उन्होंने कहा है कि कुम्भ के दौरान यात्रियों से स्टेशन परिसर को खाली कराते रहना है। जिससे भीड़ बढ़ने से किसी प्रकार की कोई दिक्कत या परेशानी न हो। उन्होंने कहा है कि माघ मेला 2018 के दौरान नार्थ सेन्ट्रल रेलवे ने 70 स्पेशल ट्रेनें शेड्यूल तरीके से चलाकर रिहर्सल भी पूरा कर लिया है।

डीआरएम के मुताबिक इलाहाबाद मण्डल की ओर से पचास अतिरिक्त ट्रेनों के रैक की भी डिमाण्ड की गई है। जिनमें से कई ट्रेनों के रैक को रिजर्व में रखा जायेगा और यात्रियों की भीड़ को देखते हुए ट्रेनों को अनशेड्यूल तरीके से भी भीड़ को कम करने के लिए चलाया जायेगा। गौरतलब है कि 2013 के कुम्भ मेले में प्लेटफार्म के बदले जाने के बाद हुई भगदड़ में यात्रियों की मौतों से सबक लेते हुए रेलवे इस बार काफी पहले से ही तैयारियों में जुट गया है। 

यूपी बोर्ड की 10वीं और 12वीं का रिजल्ट देखने के लिए यहां करें क्लिक

Read more Allahabad News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के
लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles