देश भर में "तिरंगा यात्रा फॉर PoK" की मुहिम... दिल्ली में एक अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ मार्च

संक्षेप:

नापाक हरकतों से बाज़ आए पाक.. खाली करे PoK


राष्ट्रवादी मुसलमानों ने ठाना है PoK में भारतीय ध्वज फहराना है

BY ALOK RANJAN

नई दिल्ली, 28 सितंबर। PoK भारत का था, है और सदा रहेगा। भारतीय मुसलमानों ने ठान लिया है कि पाकिस्तान से हर हाल में PoK वापस लिया जाएगा और वहां भारतीय ध्वज फहराया जायेगा। यह कहना है राष्ट्रवादी मुस्लिम संगठन मुस्लिम राष्ट्रीय मंच का। मंच के प्रवक्ता शाहिद सईद ने कहा है कि इस संबंध में अपने मुख्य संरक्षक इंद्रेश कुमार के नेतृत्व में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच के माध्यम से भारत में पहली बार PoK लेने और इसके लिए देशव्यापी आंदोलन, जनजागरण अभियान और कूटनीतिक प्रयास होने जा रहा है।

शाहिद सईद ने बताया कि इसी कड़ी में मुस्लिम राष्ट्रीय मंच "तिरंगा फॉर PoK" की मुहिम चला रहा है। उन्होंने बताया कि वो दिन दूर नहीं जब पाकिस्तान खुद अपने बोझ के तले दब कर रह जाएगा। वहां की जो आर्थिक स्थिति है वो बहुत देर तक पाकिस्तान के विभिन्न हिस्सों को संभाल कर रख पाने की हालत में नहीं है। और ऐसे में वक्त आ गया है कि भारत अपने अखंड भारत के सपने को साकार करने की दिशाओं में ठोस राजनीतिक और कूटनीतिक कदम उठाए। देश की जनता यशस्वी प्रधानमंत्री के साथ है।

ये भी पढ़े :


मंच के राष्ट्रीय संयोजक और माइनोरिटी एजुकेशन इंस्टीट्यूशन काउंसिल के मेंबर शाहिद अख्तर ने बताया कि दिल्ली में एक अक्टूबर को पाकिस्तान के खिलाफ शांतिपूर्ण प्रोटेस्ट मार्च निकाला जाएगा। यह प्रोटेस्ट रैली लाल किला से लेकर गुरुद्वारा शीश गंज तक जाएगी और फिर वापस लाल किला आयेगी। इस दरान यात्रा दिगंबर जैन मंदिर, गौरी शंकर मंदिर, गुरुद्वारा शीशगंज साहिब, सुनहरी मस्जिद और सेंट स्टीफन चर्च होते हुए वापस लाल किला पहुंच कर समाप्त होगी। दिल्ली के बाद देशभर में इस तरह के 100 से अधिक आंदोलन किए जाएंगे।

मंच के राष्ट्रीय संयोजक मोहम्मद अफजाल ने बताया कि 9 अगस्त से 30 अगस्त 2023 तक कश्मीर में मंच ने उनके नेतृत्व में तिरंगा फॉर PoK की मुहिम चलाई थी जिसमें बहुत बड़ी कामयाबी हासिल हुई। उन्होंने बताया कि इस मुहिम में स्वतः ही आम कश्मीरियों का साथ मिलता चला गया, हर भारतीय कश्मीरी दिल से चाहता है कि PoK पाकिस्तान से वापस लेके भारत के साथ जोड़ा जाए। अफजाल ने बताया कि आंदोलन में देश भर से मंच के आए कार्यकर्ताओं के साथ साथ बहुत बड़ी तादाद कश्मीर से आए विभिन्न समुदायों की भी होगी जिनमें सुन्नी, शिया, पश्तो, शीना, हुंजा, मन्हास, गुर्जर, बकरवाल और सिख समुदायों की शिरकत होगी।

मंच की महिला विंग की प्रमुख शालिनी अली ने बताया कि महिलाएं भी कंधे से कंधा मिला कर इस मुहिम में देश भर से जुट रही हैं। उन्होंने कहा आज तक मुस्लिम राष्ट्रीय मंच की जितनी भी मुहिम चली हैं उसमें देश की बहनों का भी अहम रोल रहा है और इस बार भी देशभर से महिआएं पूरी ताकत, जोश और उमंग के साथ जुड़ेंगी। कश्मीरी महिलाएं भी आंदोलन में हिस्सा ले रही हैं और उन्होंने ठान लिया है कि PoK भारत का था, है और भारत का ही रहेगा। दुनिया की कोई ताकत इसे हमसे अलग नहीं कर सकती है।

If You Like This Story, Support NYOOOZ

NYOOOZ SUPPORTER

NYOOOZ FRIEND

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.