राहुल के सड़क लोकार्पण पर लगा बैन, बीजेपी ने कहा- स्मृति करेंगी लोकार्पण

संक्षेप:

  • कांग्रेस ने कहा- केवल सड़क देखने गए थे
  • केवल श्रेय लेने जा रहे थे राहुल- भाजपा
  • राहुल से पहले स्मृति ने किया था दौरा

लखनऊः कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का अमेठी दौरे एक बार फिर विवादों में घिर गया है। राहुल अपने दो दिवसीय दौरे के दौरान जिले में एक सड़क का लोकार्पण करने वाले थे, लेकिन 1 बजे जिला प्रशासन ने उद्घाटन कार्यक्रम पर रोक लगा दी। डीएम शकुंतला गौतम ने कहा कि काम पूरा ना होने की वजह से लोकार्पण रोक दिया गया है, राहुल सड़क का अवलोकन कर सकते हैं। उधर, भाजपा ने कहा कि इस सड़क का निर्माण प्रधानमंत्री सड़क योजना के अंतर्गत हुआ है इसलिए उद्घाटन स्मृति ईरानी करेंगी। बता दें कि इस सड़क का शिलान्यास 16 जनवरी 2018 को राहुल ने ही किया था।

कांग्रेस ने कहा- केवल सड़क देखने गए थे

ये भी पढ़े : रायबरेली: कुल्हाड़ी से बीजेपी मंडल उपाध्यक्ष की हत्या, पार्टी कार्यकर्ताओं का हंगामा


जिला कांग्रेस योगेंद्र मिश्रा ने कहा कि भाजपा इस मामले में भ्रम फैला रही है। राहुल गांधी केवल सड़क देखने के लिए गए थे। हालांकि, अमेठी में राहुल गांधी के प्रतिनिधि चंद्रकांत दुबे ने कांग्रेस अध्यक्ष के दौरे का जो कार्यक्रम जारी किया था, उसमें इस सड़क के उद्घाटन का जिक्र किया गया था। बता दें कि 3 करोड़ 30 लाख करोड़ रुपए की लागत से इस सड़क का निर्माण हो रहा है और ये थौरी गांव को कोटवा गांव से जोड़ेगी।

केवल श्रेय लेने जा रहे थे राहुल- भाजपा

भाजपा जिला अध्यक्ष उमाशंकर पांडेय ने कहा, "सड़क प्रधानमंत्री सड़क योजना से बनी है ना कि सांसद निधि से। उद्घाटन का हक राहुल को नहीं है, वे केवल श्रेय लेना चाह रहे थे। अब उद्घाटन स्मृति ईरानी करेंगी। कार्यक्रम में राहुल गांधी को बुलाया जाएगा।"

कांग्रेस अध्यक्ष से पहले स्मृति ने किया था दौरा

स्मृति ईरानी शुक्रवार को दो दिवसीय अमेठी दौरे पर आई थीं। उन्होंने कठुआ रेप मामले में राहुल गांधी के कैंडल मार्च पर निशाना साधा था। स्मृति ने कहा था, "राहुल गायत्री प्रजापति का समर्थन कर चुके हैं। अमेठी की जनता सच जानती है।

Read more Lucknow Hindi News here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles