बीजेपी MLA कुलदीप सेंगर के बाद ये विधायक है निशाने पर

संक्षेप:

  • उन्नाव रेप केस में आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर
  • अब निर्दलीय विधायक अमनमणि त्रिपाठी की बढ़ सकती है मुश्किलें
  • बीजेपी पार्टी का एक खेमा चाहता है कि विधायक पर कार्रवाई हो

गोरखपुर: उन्नाव रेप केस में आरोपी बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर की मुश्किले बढ़ती जा रही है। इस कड़ी में अब निर्दलीय विधायक अमन मणि त्रिपाठी भी लाइन में नजर आने लगे है। बढ़ते विवाद के चलते अब पार्टी का एक खेमा निर्दल विधायक पर कार्रवाई करते हुए जनता में संदेश देने के पक्ष में है। योगी आदित्यनाथ का विपक्षी खेमा चाहता है कि जनता में यह संदेश जाना चाहिए कि कितना भी रसूख वाला क्यों न हो, वह कानून से बड़ा नहीं हो सकता है। दरअसल, उन्नाव रेप कांड में बीजेपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर को बचाने के चक्कर में बीजेपी सरकार सवालों के घेरे में आकर खड़ी हो गई है। जिसके चलते चारों तरफ विरोध प्रदर्शन शुरू है।

चारों तरफ से खुद को फंसते हुए देख सरकार ने तत्काल सीबीआई के हवाले मामले को करते हुए अपना दामन बचाने की कोशिश की लेकिन तबतक काफी बदनामी हो चुकी थी। इस प्रकरण में सबसे अहम यह भी रहा कि पार्टी और सरकार के अंदर ही ठाकुर लॉबी काफी मुखर हो गया। वह मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को बचाने के लिए पार्टी के ही एक बड़े नेता पर कार्रवाई नहीं किए जाने का आरोप खुलेआम लगाने लगा। सोशल मीडिया पर बीजेपी के एक कद्दावर नेता व सुपर सीएम कहे जाने वाले व्यक्ति को कटघरे में खड़ा कर दिया गया। हालांकि, विधायक की गिरफ्तारी के बाद पार्टी और सरकार डेमेज कंट्रोल में लग चुकी है।

वहीं अब पार्टी में ही एक दूसरा खेमा सरकार और निर्दल विधायक अमन मणि त्रिपाठी के बीच बढ़ी नजदीकियों से खासा नाराज है। वह लखनउ में जमीन वाले प्रकरण में निर्दल विधायक अमन मणि त्रिपाठी को बचाए जाने को आंतरिक रूप से तूल देने में लगा हुआ है। बीते दिनों मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ द्वारा जनता दरबार में इसी प्रकरण में पीड़ित पक्ष को भगाने और बिना जांच ही निर्दल विधायक अमन को क्लीनचिट देने को जनता में गलत संदेश माना जा रहा। अब संगठन का एक खेमा चाहता है कि योगी आदित्यनाथ सरकार निर्दल विधायक पर कार्रवाई कर जनता में यह संदेश दे कि कानून सबके लिए बराबर है।

ये भी पढ़े : कांग्रेस नेता किशोर उपाध्याय ने अजय भट्ट को सौंपा 6 सूत्रीय मांगों का ज्ञापन


अन्य गोरखपुर ताजा समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें
हिंदी में पढ़ने के लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles