मुन्ना बजरंगी हत्याकांड: 14 घंटे बाद बरामद हुई मर्डर में इस्तेमाल पिस्टल

संक्षेप:

  • बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की हत्या
  • सुनील राठी ने बताया- मुन्नी बजरंगी ने तानी मुझपर पिस्टल
  • सूत्रों के मुताबिक, सुनील राठी ने पिस्टल को गटर में फेंक दिया था

यूपी के बागपत जेल में माफिया डॉन मुन्ना बजरंगी की सोमवार को गोली मारकर हत्या कर दी गई। इस हत्याकांड को लेकर सुई सुनील राठी की तरफ घूमी। सूत्रों के मुताबिक, पूछताछ में सुनील राठी ने पुलिस को बताया कि जेल में मुन्ना बजरंगी और उसके बीच विवाद हुआ था। पहले मुन्ना ने मुझसे कहा कि तुमने मेरी हत्या करने के लिए एक करोड़ की फिरौती ली है, इस बीच हमारे बीच बहस बढ़ गई।

सुनील राठी ने कहा कि बहस बढ़ने पर मुन्ना बजरंगी ने उसके ऊपर पिस्टल तान दी। इसके बाद राठी ने लात मारकर मुन्ना को नीचे गिरा दिया और पिस्टल से फायरिंग करके मुन्ना की हत्या कर दी। सोमवार सुबह 6 बजे सुनील राठी ने मुन्ना बजरंगी की गोली मारकर हत्या कर दी और पिस्टल को गटर में फेंक दिया था। 14 घंटे की सघन तलाशी के बाद पुलिस को हत्‍या में इस्‍तेमाल पिस्‍टल बरामद हो गई है। पुलिस को पिस्‍टल के साथ ही 10 खोखे, 22 जिंदा कारतूस और दो मैग्‍जीन भी मिली है।

गौरतलब है कि सोमवार को मुन्‍ना बजरंगी की पूर्व बसपा विधायक लोकेश दीक्षित से रंगदारी मांगने के आरोप में बागपत कोर्ट में पेशी होनी थी। उसे रविवार को झांसी से बागपत लाया गया था। पेशी से पहले ही जेल में उसे गोली मार दी गई। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ ने मुन्ना बजरंगी की हत्या के मामले की न्यायिक जांच के आदेश दिए हैं। योगी ने कहा कि जेल में हुई हत्या बहुत गंभीर मामला है। मामले की गहराई से जांच होगी। दोषियों को बख्शा नहीं जाएगा।

ये भी पढ़े : जानिए एसबीआई ने परीक्षार्थियों को क्यों किया आगाह


 

अन्य मेरठ समाचार पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें | देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के
लिए NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें|

Related Articles