झांसी में बोले सीएम योगी, जल्द ही एक लाख 45 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

संक्षेप:

  • डिफेंस कॉरीडोर के लिए शुरू हो गया है काम
  • हमारे फोकस में है बुंदेलखंड और पूर्वाचंल का विकासः CM
  • 1 लाख 45 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

कानपुरः 2019 के लोकसभा चुनावों को देखते हुए सीएम आदित्यनाथ के फोकस में बुंदेलखंड है। सीएम पांच दिनों से यहां का दौरा कर रहे हैं। पहले ललितपुर फिर उरई और आज झांसी में उन्होंने लगभग 5 घंटे व्यतीत किये। झांसी में योगी आदित्यनाथ के रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण और केन्द्रीय मंत्री उमा भारती व अधिकारियों के साथ बैठक हुई। इसके बाद वह क्राफ्ट मैदान पहुंचे जहां उन्होंने 8205 करोड़ की 33 परियोजनाओं का शिलान्यास और 1126 करोड़ की योजनाओं का लोकापर्ण किया।

डिफेंस कॉरीडोर के लिए शुरू हो गया है काम

रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण ने हाल ही में बताया कि उत्तर प्रदेश के बुंदेलखण्ड क्षेत्र में डिफेंस कॉरीडोर बनाने का काम शुरू कर दिया गया है। उन्‍होंने कहा था कि सैन्य अधिकारी इसके लिए क्षेत्र का दौरा कर विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार कर रहे हैं। चेन्नई में सैन्य उत्पादन शीघ्र ही देखने को मिलेगा, जबकि उत्तर प्रदेश में स्थिति का आकलन कर उसके अनुभवों का लाभ लिया जाएगा। इस कॉरीडोर पर 20 हजार करोड़ रुपए का निवेश होगा और करीब 2.5 लाख लोगों को रोजगार मिलेगा।

ये भी पढ़े : क्या सीएम योगी के आक्रमक प्रचार से बीजेपी को हुआ फायदा?


पीएम मोदी ने की थी घोषणा

केन्द्र सरकार ने इस बजट में डिफेंस कॉरीडोर बनाने की घोषणा की थी, लेकिन प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी बुंदेलखण्ड में डिफेंस कॉरीडोर बनाने की घोषणा यहां 21 फरवरी को इन्वेस्टर्स समिट में की थी। मोदी ने कहा था कि इस कॉरीडोर निर्माण पर 20 हजार करोड़ रुपए का निवेश किया जाएगा और ढाई लाख लोगों के लिए रोजगार का सृजन किया जाएगा।

क्या कहा सीएम ने?

झांसी के क्राफ्ट मैदान में सभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब मैं झांसी और बुंदेलखंड की बात करता हूं तो लगता है कि इस क्षेत्र में यदि पिछली सरकारों ने ध्यान दिया होता तो यहां के लोगों को आज पलायन के लिए मजबूर नहीं होना पड़ता। ये केवल बुंदेलखंड की बात नहीं। 2014 से पहले की सरकारों के एजेंडों में विकास, महिलाएं और किसान नहीं थे। प्रधानमंत्री बनने के बाद नरेंद्र मोदी ने देश के विकास और सुशासन का नजरिया बदला। उसका ही परिणाम है कि आज देश के किसान शासन और सत्ता के हिस्सा बने हैं। उन्होंने कहा कि आज पीएम के कारण ही गरीबों के एकाउंट खुले हैं। महिलाओं के लिए उज्जवला योजना शुरू हुई। नौजवनों के लिए मुद्रा योजना आई।

1 लाख 45 हजार लोगों को मिलेगा रोजगार

उन्होंने कहा कि पीएम ने उप्र के अंदर व्यापक निवेश की संभावनाओं को टटोला। इसके चलते ही रोजगार की संभवनाओं को क्रियान्वित करने के लिए पहली बार उप्र में 70 हजार करोड़ रुपए के प्रस्ताव को शुरू करने का प्रयास किया जा रहा है। जल्द ही एक लाख पैंतीस हजार नौजवानों को रोजगार मिलने की संभावना है। उन्होंने कहा कि विकास नौकरी और रोजगार नौजवानों का हक है। हम लोग प्रदेश के अंदर गरीबी को दूर करके विकास के रास्ते बनाएंगे। उप्र सरकार ने विकास के लिए बुंदेलखंड और पूर्वांचल को विशेष रूप से शामिल किया। इन दोनों जगहों को रोजगार परक बनाएंगे। यहां के नौजवानों के रोजगार और नौकरी के लिए काम करेंगे।

स्थापित होंगे कई कारखाने

उन्होंने कहा कि हमारी सरकार बुंदेलखंड को कई सौगात देने जा रही है। बुंदेलखड एक्सप्रेस वे, झांसी के लिए डिफेंस कॉरीडोर, रेल मंत्री द्वारा झांसी में रेल कारखाना स्थापित होंगे। यहां पर फूड प्रोसेसिंग के क्षेत्र में हमें प्रस्ताव प्राप्त हुए थे। किसानों की आय को दोगुना करने के लिए पीएम ने यहां ये कार्यक्रम प्रारंभ किया है। जो किसानों को नई ऊर्जा के साथ आर्थिक समृद्धि भी देंगे।  मुख्यमंत्री ने अपनी सरकार में किए गए जनकल्याणकारी कार्यों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि हमे खुशी है हमने झांसी जनपद में 48 हजार 94 किसानों का कर्ज माफ किया। झांसी जनपद में शौचालय बनवाए गए। गरीब महिलाओं को नि:शुल्क गैस संयोजन उज्जवला योजना में दिए गए। विद्युत संयोजन भी दिए गए। नए विद्युतीकरण कराये।

Your support to NYOOOZ will help us to continue create and publish news for and from smaller cities, which also need equal voice as much as citizens living in bigger cities have through mainstream media organizations.

Read more Kanpur News In Hindi here. देशभर की सारी ताज़ा खबरें हिंदी में पढ़ने के लिए
NYOOOZ HINDI को सब्सक्राइब करें |

Related Articles