Lucknow Hindi News


                 लॉकडाउन के बाद जो सबसे बड़ी समस्या उभरकर सामने आई वो है शहरों से गांवों की ओर लोगों का पलायन। दिहाड़ी मजदूर इतनी बड़ी संख्या में सड़कों पर उतरकर पैदल ही अपने घरों की ओर निकल पड़ेंगे ये किसी ने नहीं सोचा था।

                 लखनऊ में लॉकडाउन के बाद भी सरकारी अस्पतालों में मरीजों की भीड़ नहीं कम हो रही। शुक्रवार को यहां अन्य दिनों की अपेक्षा ज्यादा मरीज दिखे। ऐसे में फीवर क्लीनिक का समय चार घंटे बढ़ा दिया गया है।

                 सरकार निजी और सरकारी मेडिकल कालेजों तथा छह चिकित्सा संस्थानों के जरिये ज्यादा से ज्यादा आइसोलेशन व क्वारंटीन बेड तैयार कराने की कोशिश में है लेकिन निजी मेडिकल कॉलेजों के लिए वेंटीलेटर का इंतजाम करना आसान नहीं होगा।

                 लखनऊ में लॉकडाउन के चलते कई व्यापारियों ने जरूरी सामान की कालाबाजारी व जमाखोरी भी शुरू कर दी है। इस पर रोक लगाने के लिए जिलाधिकारी के निर्देश पर   राजधानी में खुदरा बिक्री की दर तय कर दी है।

                 यूपी में गुरुवार को सात नए कोरोना पॉजिटिव मरीज सामने आने से स्वास्थ्य विभाग में हड़कंप मच गया। इनमें से नोएडा में तीन, गाजियाबाद में दो, आगरा-बागपत में एक-एक नया मरीज मिला है। बागपत में पहला संक्रमित मरीज मिला है।

More Cities From NYOOOZ